Home /News /rajasthan /

लोकसभा चुनाव-2019: कांग्रेस और बीजेपी के लिए ये सीटें बनी हुई हैं जी का 'जंजाल'

लोकसभा चुनाव-2019: कांग्रेस और बीजेपी के लिए ये सीटें बनी हुई हैं जी का 'जंजाल'

फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी और कांग्रेस दोनों पार्टियां राजधानी दिल्ली में प्रत्याशियों के चयन के लिए माथापच्ची करने में जुटी हैं. लेकिन अभी तक दोनों ही पार्टियां किसी भी सीट पर प्रत्याशियों नामों को अंतिम रूप नहीं दे पाई है.

    लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी और कांग्रेस दोनों पार्टियां राजधानी दिल्ली में प्रत्याशियों के चयन के लिए माथापच्ची करने में जुटी हैं. लेकिन अभी तक दोनों ही पार्टियां किसी भी सीट पर प्रत्याशियों नामों को अंतिम रूप नहीं दे पाई है.

    लोकसभा चुनाव-2019: कांग्रेस के मिशन-25 की 'नई रणनीति', इन बड़े चेहरों पर खेलेगी दांव

    कांग्रेस में दिल्ली में हुए मंथन के बाद बताया जा रहा है कि दो तिहाई सीटों पर लगभग सहमति बन चुकी है, वहीं बीजेपी में प्रदेश की कोर कमेटी की अभी तक पार्टी अध्यक्ष अमित शाह के साथ बैठक नहीं हो पाई है. यह बैठक रविवार शाम को होनी थी, लेकिन गोवा के सीएम मनोहर पर्रिकर के निधन के कारण शाह बैठक में शामिल नहीं हो पाए थे.

    लोकसभा चुनाव-2019: पूर्व मंत्री निहालचंद ने कहा, किसी भी कीमत पर नहीं छोडूंगा घर

    कहीं दावेदारों की भरमार तो कहीं जिताऊ चेहरे का अभाव
    प्रत्याशी चयन की इस पूरी मशक्कत में बीजेपी और कांग्रेस दोनों की पार्टियों को कई सीटों पर खासा परेशानियों को सामना करना पड़ रहा है. कांग्रेस को श्रीगंगानगर, बीकानेर, चूरू, बाड़मेर और नागौर सीट के लिए सबसे ज्यादा पसीना बहाना पड़ रहा है. यहां पार्टी के सामने दावेदारों को लेकर कई तरह के संशय हैं. इनमें कुछ सीटों पर दावेदारों की भरमार है तो कहीं जिताऊ चेहरे का अभाव है. वहीं कुछ सीटों पर भीतरघात की आशंका पार्टी को खाए जा रही है. इसी तरह के कुछ तथ्यों के साथ पार्टी को जयपुर ग्रामीण, कोटा-बूंदी, जयपुर शहर, टोंक-सवाई माधोपुर और जालोर-सिरोही सीट के प्रत्याशी चयन में भी माथापच्ची करनी पड़ रही है.

    लोकसभा चुनाव-2019: MP सोनाराम ने जताई दावेदारी, संगठन महामंत्री से की मुलाकात

    कई जगह हो रहा है विरोध
    कुछ इसी तरह का हाल बीजेपी का है. बीजेपी में बीकानेर सांसद एवं केन्द्रीय राज्य मंत्री अर्जुनराम मेघवाल और पाली सांसद एवं केन्द्रीय राज्य मंत्री पीपी चौधरी की खिलाफत क्षेत्र में पार्टी के स्थानीय पूर्व एवं वर्तमान जनप्रतिनिधि कर रहे हैं. वहीं कई अन्य वर्तमान सांसदों का अंदरखाने विरोध चल रहा है. इन सबके बीच राजसमंद, करौली-धौलपुर, बाड़मेर, डूंगरपुर-बांसवाड़ा और टोंक-सवाई माधोपुर सीट पर प्रत्याशी चयन में पार्टी के लिए गले की घंटी बना हुआ है. बीजेपी में भी कहीं दावेदारों के नामों पर आपत्तियां आ रही हैं तो कहीं जातीय समीकरण नहीं बैठ पा रहे हैं.

    (रिपोर्ट:  अभिषेक आढ़ा एवं गोवर्धन  चौधरी)

    लोकसभा चुनाव-2019: बागियों से नहीं है कांग्रेस को गुरेज ? बैनरों में छाए हैं बागी

    लोकसभा चुनाव-2019: 23 मार्च से 6 अप्रेल तक कांग्रेस करेगी 100 चुनावी सभाएं

    लोकसभा चुनाव 2019: प्रदेश में बीजेपी-कांग्रेस के इन दिग्गजों पर रहेगी सभी की नजरें

    प्रत्याशी चयन में बदलाव की आहट, कांग्रेस नए जातीय समीकरण और बीजेपी देख रही फीडबैक

    Tags: Amit shah, Ashok gehlot, BJP, Congress, Jaipur news, Lok Sabha Election 2019, Pm narendra modi, Priyanka gandhi, Rahul gandhi, Rajasthan news, Rajasthan State Election Commission, Sachin pilot, Vasundhara raje

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर