लोकसभा चुनाव 2019: कौन हैं नागौर में BJP के तारणहार बने हनुमान बेनीवाल? यहां पढ़े पूरी कहानी
Jaipur News in Hindi

लोकसभा चुनाव 2019: कौन हैं नागौर में BJP के तारणहार बने हनुमान बेनीवाल? यहां पढ़े पूरी कहानी
खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

राजस्थान की राजनीति में गुरुवार का दिन बड़े उलटफेर वाला रहा. गुरुवार को बीजेपी और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) में गठबंधन हो गया. गठबंधन के बाद बीजेपी ने अपनी नागौर सीट आरएलपी के लिए छोड़ दी है.

  • Share this:
राजस्थान की राजनीति में गुरुवार का दिन बड़े उलटफेर वाला रहा. गुरुवार को बीजेपी और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (आरएलपी) में गठबंधन हो गया. बीजेपी छोड़कर अपनी नई पार्टी बनाने वाले खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल एक बार फिर गठबंधन के बहाने बीजेपी के खेमे में आ गए हैं. पूर्व सीएम वसुंधरा राजे से 36 का आंकड़ा रखने वाले खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल ने विधानसभा चुनाव से पहले नई पार्टी के सहारे तीसरा मोर्चा बनाने का भरसक प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हो पाए थे.

लोकसभा चुनाव-2019: बीजेपी और आरएलपी में गठबंधन, नागौर से लड़ेंगे बेनीवाल

2 मार्च 1972 को को जन्मे हनुमान बेनीवाल राजस्थान विश्वविद्यालय में छात्रसंघ अध्यक्ष रह चुके हैं. वर्ष 2008 में नागौर के खींवसर विधानसभा क्षेत्र से बीजेपी के टिकट पर विधायक चुने गए बेनीवाल ने बाद में तत्कालीन सीएम वसुंधरा राजे से विवाद के चलते पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. 2013 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने खींवसर से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर ताल ठोकी और जीत दर्ज कराई.



hanuman beniwal
हनुमान बेनीवाल (Photo: Facebook)




केवल मतदाता पर्ची पहचान का आधार नहीं होगी, इपिक कार्ड या वैकल्पिक दस्तावेज जरूरी

गत वर्ष बनाई थी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी
गत विधानसभा चुनाव से पहले 29 अक्टूबर 2018 को बेनीवाल ने तीसरे मोर्चे के गठन के प्रयास करने के लिए अपनी नई पार्टी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी बनाई. आरएलपी ने चुनाव में प्रदेश की कुल 200 सीटों में से 57 अपने प्रत्याशी उतारे और तीन सीटों पर जीत दर्ज कराई. हनुमान बेनीवाल खुद फिर से अपनी पार्टी के बैनर पर खींवसर से चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे. बेनीवाल की पार्टी के दो प्रत्यशी दूसरे स्थान पर रहे थे.

hanuman beniwal1
हनुमान बेनीवाल (File Photo)


जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट: ओलंपिक चैम्पियन और कॉमनवेल्थ गेम्स गोल्ड मेडलिस्ट में मुकाबला

जाट बहुल इलाकों में बेनीवाल का खासा प्रभाव है
प्रदेश के जाट बहुल क्षेत्र में विधायक हनुमान बेनीवाल का खासा प्रभाव है. जोधपुर, नागौर, बाड़मेर और अजमेर आदि जिलों में बेनीवाल की एक वर्ग विशेष पर काफी पकड़ है. अब गठबंधन के तहत बीजेपी ने अपनी नागौर सीट उनके लिए छोड़ी है. इस इलाके में बेनीवाल काफी प्रभाव माना जाता है. बीजेपी अब बेनीवाल के सहारे रण फतह करने का प्रयास करेगी. बेनीवाल के पिता रामदेव बेनीवाल भी विधायक रहे हैं.

राजस्थान में राहुल ने मंत्रियों को दिया जीत का टारगेट, प्रत्याशी हारा तो छिनेगा मंत्री पद

लोकसभा चुनाव-2019: बागियों के प्रति बीजेपी का कड़ा रुख, कहा- अभी कांग्रेस को है जरूरत

प्रत्याशी चयन में बदलाव की आहट, कांग्रेस नए जातीय समीकरण और बीजेपी देख रही फीडबैक

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading