इन दो अवसरों पर ये 'खास' काम करना नहीं भूलते हैं ओम बिड़ला

Babulal Dhayal | News18 Rajasthan
Updated: June 18, 2019, 7:54 PM IST
इन दो अवसरों पर ये 'खास' काम करना नहीं भूलते हैं ओम बिड़ला
ओम बिड़ला। फोटो एफबी

नई लोकसभा में स्पीकर बनने जा रहे कोटा-बूंदी के सांसद ओम बिड़ला ने राजस्थान की राजनीति में एक और सुनहरा अध्याय जोड़ दिया है. बहुमुखी प्रतिभा के धनी बिड़ला के इस पद तक पहुंचने में उनकी कार्यशैली बड़ी सहायक रही है.

  • Share this:
नई लोकसभा में स्पीकर बनने जा रहे कोटा-बूंदी के सांसद ओम बिड़ला ने राजस्थान की राजनीति में एक और सुनहरा अध्याय जोड़ दिया है. बहुमुखी प्रतिभा के धनी बिड़ला के इस पद तक पहुंचने में उनकी कार्यशैली बड़ी सहायक रही है. सामान्य जन में रमे रहने वाले बिड़ला कई ऐसे कार्य करते हैं, जो शायद दूसरे नेता नहीं करते हैं. बिड़ला की रोजमर्रा की कार्यशैली में दो कार्य बड़े अहम और अलग तरह के हैं, जिसके चलते मतदाता उनके कायल हैं.

मतदाताओं को देते हैं जन्मदिन और वैवाहिक वर्षगांठ की शुभकामनाएं
बेहतरीन जनसंपर्क रखने वाले बिड़ला अपने क्षेत्र के मतदाताओं को जन्मदिन और वैवाहिक वर्षगांठ की शुभकामनाएं देना कभी नहीं भूलते हैं. उनकी यह कार्यशैली आम आदमी को बेहद लुभाती है. वे वक्त निकालकर अकेले ही जनता के बीच निकल जाते हैं. उन्हें जानने वाले बताते हैं कि उनके चेहरे पर कभी निराशा के भाव नहीं आते. वो सम दृष्टि रहते हैं. न खुशी से कभी फूले समाते और न ही परेशानी में चेहरे पर शिकन आने देते हैं. अपने इन्हीं गुणों की बदौलत वे सियासत की सीढियां चढ़ते गए हैं.

किसानों के लिए खुशखबरी, 6 जुलाई से मिलेगा फसली ऋण

कोटा ने दिए हैं कई बड़े नेता
कोटा ने यूं तो बीजेपी को कई बड़े नेता दिए हैं, लेकिन बिड़ला जितनी बुलंदी अभी तक किसी नहीं छुई. ललित किशोर चतुर्वेदी, केके गोयल, हरिकुमार औदिच्य, रघुवीर सिंह कौशल और हरीश शर्मा इस क्षेत्र के दिग्गज नेता रहे हैं. वे समय-समय पर पार्टी में और सरकार में बड़े पदों पर आसीन रहे हैं. लेकिन वो प्रदेश की राजनीति तक सीमित रहे.

लोकसभा स्पीकर बनने वाले ओम बिड़ला की ये है 'ताकत'
Loading...

राठौड़ बोले अमिट छाप छोड़ेंगे बिड़ला
अपनी राजनीतिक दूरदर्शिता, पार्टी आलाकमान से बेहतर संपर्क, राजनीतिक शत्रुता को मित्रता में बदलने का गुण और विषयों पर गहरी पकड़ का ही नतीजा है कि बिड़ला आज इस मुकाम को हासिल करने में सफल रहे हैं. उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ मानते हैं कि ओम बिड़ला इन्हीं गुणों की वजह से लोकसभा अध्यक्ष के रूप में अपनी अमिट छाप छोड़ेंगे.

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: June 18, 2019, 7:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...