लाइव टीवी

कोटा जैसी घटनाओं को रोकने के लिए राज्य एवं केंद्र सामूहिक प्रयास करें: ओम बिरला
Jaipur News in Hindi

भाषा
Updated: January 2, 2020, 11:44 PM IST
कोटा जैसी घटनाओं को रोकने के लिए राज्य एवं केंद्र सामूहिक प्रयास करें: ओम बिरला
कोटा में नवजात शिशुओं की मौत पर ये बोले लोकसभा स्पीकर ओम बिरला

ओम बिरला ने कहा कि उन्होंने केंद्र सरकार से कहा है कि वह विशेषज्ञों का एक दल भेजे जो इस बात पर विचार करे कि ऐसी मौतों को किस प्रकार से रोका जा सकता है.

  • Share this:
जयपुर. कोटा स्थित हॉस्पिटल में नवजात शिशुओं की मौत के मामले में लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने अपनी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि यह जरूरी है कि ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार मिल कर काम करें और एक सामूहिक प्रयास हो.

बिरला ने मीडिया से कहा, ‘कोटा मेरा लोकसभा क्षेत्र है और कोई भी ऐसी घटना मुझे कष्ट पहुंचाती है. मैं खुद वहां गया था. इस विषय पर राज्य सरकार से भी आग्रह किया और केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डा. हर्षवर्द्धन से भी मेरी बात हुई है कि किस प्रकार से राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार मिलकर काम कर सकते हैं.’

'चिकित्सा राज्य का विषय है'
उन्होंने कहा कि 'केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने आश्वस्त किया है कि वे हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध कराने को तत्पर हैं. जो राज्य के स्तर के कार्य हैं, उनका राज्य सरकार को इंतजाम करना चाहिए. लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि चिकित्सा राज्य का विषय है, ऐसे में राज्य सरकार से भी आग्रह किया है कि वे प्रस्ताव तैयार करके केंद्र को भेजे.'



'नवजात शिशुओं की मृत्यु को रोका जा सकता है'
उन्होंने कहा,
‘कैसे व्यापक चिकित्सा सुविधा का इंतजाम किया जा सकता है, राज्य सरकार उसकी व्यवस्था करे. आंकड़ों में जाने की बजाए यह कोशिक करे कि किस प्रकार से नवजात शिशुओं की मृत्यु को रोका जा सकता है.’
ओम बिरला ने कहा कि उन्होंने केंद्र सरकार से कहा है कि वह विशेषज्ञों का एक दल भेजे जो इस बात पर विचार करे कि ऐसी मौतों को किस प्रकार से रोका जा सकता है.

वहीं, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से कोटा के सरकारी अस्पताल का दौरा करने तथा वहां की व्यवस्थाएं व्यक्तिगत रूप से देखने का आग्रह किया है.

ये भी पढ़ें:

कोटा में बच्चों की मौत से सोनिया गांधी दुखी, CM गहलोत बोले- न हो राजनीति

पाकिस्तान से आई हिन्दू शरणार्थी छात्रा के सामने आया शिक्षा का संकट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 2, 2020, 9:52 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर