मध्य प्रदेश में किसानों का कर्ज माफ, अब राजस्थान में पूरा होगा कांग्रेस का वादा?

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत. (फोटो-एफीबी)
राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत. (फोटो-एफीबी)

राजस्थान में 10 दिन में कर्ज माफी का कदम कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार के लिए मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार जितना आसान नहीं होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 17, 2018, 8:13 PM IST
  • Share this:
राजस्थान में कांग्रेस ने जिस किसान कर्जमाफी के वादे के साथ सत्ता हासिल की है उसे पूरा करने के लिए अब महज 9 दिन शेष बचे हैं. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के शपथ ग्रहण करने के साथ ही कांग्रेस सरकार का कार्यकाल शुरू हो चुका है और अब किसानों को मध्य प्रदेश की तरह कर्जमाफी की घोषणा का इंतजार है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनाव प्रचार के दौरान किसानों को 10 दिन में कर्ज माफ करने का वादा किया था. पार्टी के घोषणा पत्र में इसका उल्लेख भी किया गया. खुद पार्टी प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि यह महज दस्तावेज नहीं, हम समयबद्ध तरीके से लागू करेंगे. लेकिन राजस्थान में 10 दिन में कर्ज माफी का कदम कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार के लिए इतना आसान नहीं होगा.

ये भी पढ़ें- कांग्रेस की गहलोत सरकार में कौन बनेगा मंत्री? यहां देखें- दावेदारों की लिस्ट



पिछली सरकार अंतिम बजट में कर्ज सीमा 28 हजार करोड़ रुपये में से 24557 करोड़ ले चुकी है और अब सरकार का उधार लेने का कोटा पूरा हो चुका है. ऐसे में कर्ज माफी के लिए नया बजट लाना होगा. क्यों कि जो पैसा कर्ज माफी के लिए चाहिए उसका मौजूदा बजट में कोई प्रावधान ही नहीं है.
farm loan waiver
कांग्रेस ने किसानों से राजस्थान में कर्जमाफी करने का वादा किया है.


राजस्थान में किसानों को कर्ज की बात करें, तो सिर्फ को-ऑपरेटिव बैंक ने ही 15 हजार करोड़ बांट रखें हैं. इनमें शॉर्ट और मिड टर्म लोन शामिल हैं. इसी के साथ प्राइवेंट और स्टेट सेक्टर के बैंकों का भी करीब 80 हजार करोड़ रुपये का कर्ज किसानों पर बकाया चल रहा है.

ये भी पढ़ें- खरमास यानी मलमास में गहलोत ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, पढ़ें- क्या है शुभ-अशुभ का चक्कर?

पायलट ने कहा था, घोषणा पत्र महज दस्तावेज नहीं, लागू किया जाएगा
घोषणा-पत्र जारी करते हुए प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा था कि कांग्रेस का चुनाव घोषणा पत्र महज दस्तावेज ही नहीं है, इसे सरकार बनने पर समयबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा. कांग्रेस किसानों का कर्ज माफ करेगी और बालिकाओं की पूरी शिक्षा मुफ्त देगी. पायलट ने कहा कि हम लोगों को रोजगार देंगे. युवाओं को सस्ती दरों पर रोजगार के लिए कर्ज देंगे. नौकरी और कर्ज नहीं मिलने वाले युवाओं को 3500 रुपये की मासिक आर्थिक सहायता दी जाएगी.

कांग्रेस ने राजस्थान में किसानों के लिए ये किए थे वादे
» दस दिन में किसानों का कृषि ऋण माफ किया जाएगा
» बुजुर्ग किसानों के लिए पेंशन का प्रावधान
» कृषि उपकरण जीएसटी से मुक्त होंगे
» गोचर भूमि बोर्ड बनेगा

Madhya Pradesh CM Kamal Nath
राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ.


बीजेपी ने लगाया था किसानों के साथ धोखे का आरोपी
कांग्रेस के घोषणा पत्र में किसानों को लेकर की गई घोषणाओं के बारे में केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने किसानों को धोखा देने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा की केंद्र सरकार में वो स्वयं किसानों का मंत्रालय देख रहे हैं. ऐसे में जितना काम मोदी सरकार और राजे सरकार में हुए हैं वो एक मिशाल बन गई है. उन्होंने किसानों के कर्ज माफी के वादे पर भी सवाल उठाते हुए कहा की प्रदेश की सरकार ने पहले ही किसानों के लिए कर्ज माफी कर उनको राहत दे दी है. साथ ही किसानों की फसलों पर केंद्र सरकार ने एमएसपी दरें भी बढ़ा दी हैं. इससे किसानों को नुकसान की आशंका खत्म हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज