राजस्थान की कंपनी 'महाराजा श्री उम्मेद मिल्स' में बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा

श्री उम्मेद मिल्स फोटो : ईटीवी

एसडीआरआई ने पाली की महाराजा श्री उम्मेद मिल्स कंपनी में बड़े फर्जीवाड़े का खुलासा करते हुए छापेमारी की कार्रवाई की. कंपनी के मालिकों पर दस करोड़ रुपए का इनपुट क्रेडिट टैक्स फर्जी तरीके से लेने का आरोप है.

  • Share this:
स्टेट डायरेक्ट्रेट ऑफ रेवेन्यू इंटेलिजेंस विभाग ने पाली की महाराजा श्री उम्मेद मिल्स कंपनी में फर्जीवाड़े का बड़ा खुलासा किया है. देश और प्रदेश की प्रमुख वस्त्र निर्माता कंपनियों में से एक श्री उम्मेद मिल्स पर फर्जी इनपुट टैक्स क्रेडिट करने के मामले में एसडीआरआई ने मंगलवार को छापे की कार्रवाई की. श्री उम्मेद मिल्स कंपनी के मालिकों पर दस करोड़ रुपए का इनपुट क्रेडिट टैक्स फर्जी तरीके से लेने का आरोप है.

एसडीआरआई की जांच में खुलासा हुआ है कि श्री उम्मेद मिल्स पाली में वर्ष 2012 में आग लगने के कारण दस करोड़ रुपए का रॉ मैटेरियल जलकर खाक हो गया था. श्री उम्मेद मिल्स के मालिकों ने जले हुए रॉ मैटेरियल का दस करोड़ रुपए का बीमा उठा लिया. जले हुए रॉ मैटेरियल से बीमा उठाने के बाद श्री उम्मेद मिल्स के मालिकों ने जले हुए माल पर इनपुट टैक्स क्रेडिट का दावा भी कर दिया. एसडीआरआई ने उम्मेद मिल्स मालिकों की राख से माल बनाकर बेचने के मामले की जांच की तो कई चौंकाने वाले खुलासे सामने आए.

एसडीआरआई की जांच में खुलासा हुआ है कि ओम मेटल्स कंपनी के मालिक व श्री उम्मेद मिल्स कंपनी के मालिकों ने फर्जी तरीके से इनपुट टैक्स क्रेडिट का लाभ लेकर राज्य सरकार को दस करोड़ रुपए का चूना लगाया है. एसडीआरआई ने श्री उम्मेद मिल्स कंपनी पर छापे की कार्रवाई कर टैक्स चोरी संबंधित सभी दस्तावेज जब्त कर लिए हैं.

गौरतलब है कि एसडीआरआई की सतर्कता से बड़ी टैक्स चोरी का खुलासा हुआ है. क्योंकि तीस दिन बाद वैट का क्षेत्राधिकार समाप्त होने के बाद राज्य सरकार श्री उम्मेद मिल्स कंपनी के इस फर्जीवाड़े पर कोई कार्रवाई नहीं कर पाती. इससे राज्य सरकार को दस करोड़ रुपए से ज्यादा का चूना लगना तय था. अब जांच एजेन्सी ने श्री उम्मेद मिल्स के मालिकों पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.