Rajasthan: गहलोत सरकार के चिकित्सा मंत्री बोले- राम मंदिर में आस्था के लिए 1 रुपया ही बहुत है

मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने तंज कसते हुये कहा कि पहले भी शिला पूजन के वक्त करोड़ों रुपये एकत्र किया गया था. आज तक उसका भी हिसाब नहीं दिया गया.

मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने तंज कसते हुये कहा कि पहले भी शिला पूजन के वक्त करोड़ों रुपये एकत्र किया गया था. आज तक उसका भी हिसाब नहीं दिया गया.

Ram mandir nirman: अशोक गहलोत सरकार के चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा (Dr. Raghu Sharma) ने कहा है कि राम मंदिर में आस्था के लिए 1 रुपया ही बहुत है. सब 1-1 रुपया देंगे तो भी राम मंदिर बन जायेगा.

  • Share this:

जयपुर. अयोध्या में हो रहे राम मंदिर निर्माण (Ram mandir nirman) लिये चलाये जा रहे चंदा अभियान को लेकर प्रदेश की गहलोत सरकार के चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा (Dr. Raghu Sharma) ने कहा है कि राम मंदिर में आस्था के लिए 1 रुपया ही बहुत है. डॉ. शर्मा ने कहा कि देश में 135 करोड़ लोग हैं. 1-1 रुपया सब देंगे तो भी राम मंदिर बन जायेगा. उन्होंने राम मंदिर निर्माण के चंदे को लेकर चलाये जा रहे अभियान पर तंज कसते हुये कहा कि पहले भी शिला पूजन के वक्त करोड़ों रुपये एकत्र किया गया था. वो लोग आज तक उसका ही हिसाब नहीं दे रहे हैं.

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस के अग्रिम संगठन एनएसयूआई ने भी राम मंदिर निर्माण के लिये 1 रुपया 1 व्यक्ति चंदा अभियान शुरू किया है. एनएसयूआई का कहना है कि ये उनके लिये बड़ा संदेश है जो राममंदिर निर्माण के लिए करोड़ों रुपये चंदा इकट्ठा कर कर रहे हैं. एनएसयूआई ने इसके तहत मंगलवार को जयपुर में राजस्थान विश्वविद्यालय के कॉमर्स कॉलेज में इस अभियान को चलाया था. इस दौरान उसने एबीवीपी, आरएसएस और बीजेपी पर राम मंदिर निर्माण के लिए दिखावा करने का आरोप लगाया. चंदा अभियान में जुटी एनएसयूआई की टीम का कहना था कि एक-एक रुपए के सहयोग से भी घड़ा भर सकता है. एबीवीपी समेत अन्य संगठन लोगों पर बेवजह दबाव बना रहे हैं.

'निधि समर्पण कार्यक्रम' के नाम से चल रहा है अभियान

उल्लेखनीय है कि राम मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और विश्व हिंदू परिषद की ओर से देशभर में चंदा जुटाने के लिये अभियान चलाया जा रहा है. 'निधि समर्पण कार्यक्रम' के नाम से चल रहे इस अभियान में लोग बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे हैं. जयपुर में पिछले माह इसे शुरू किया गया था. जयपुर में अभियान की शुरुआत के मौके पर आरएसएस के जयपुर प्रांत के प्रचारक डॉक्टर शैलेंद्र ने कहा था कि उनका मकसद प्रत्येक व्यक्ति को इस मंदिर निर्माण से जोड़ना है ना कि सहयोग राशि एकत्र करना.
कई लोग डिजिटली भी सहयोग राशि दे रहे हैं

इस अभियान के लिये कई लोग डिजिटली भी सहयोग राशि दे रहे हैं. अभियान से आम आदमी को जोड़ने के लिये 10 रुपये का कूपन भी निकाला गया है. अभियान को संचालित करने वाली टीम के अनुसार जो लोग डिजिटल पेमेंट नहीं कर पा रहे हैं वे कूपन के जरिये भी अपनी सहयोग राशि दे सकते हैं. निधि समर्पण का यह अभियान 14 फरवरी तक चलेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज