मेहरानगढ़ दुखांतिका: क्या सामने आएगा 216 लोगों की मौत का सच ? कैबिनेट सब कमेटी का गठन

करीब सात साल पहले जोधपुर में हुई मेहरानगढ़ दुखांतिका के पीड़ितों को न्याय मिलने की आस जगी है. गहलोत सरकार ने इसके लिए कैबिनेट सब कमेटी का गठन किया है. कमेटी तय करेगी कि जस्टिस जसराज चोपड़ा की रिपोर्ट विधानसभा में रखी जाए या नहीं.

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: July 23, 2019, 8:54 AM IST
मेहरानगढ़ दुखांतिका: क्या सामने आएगा 216 लोगों की मौत का सच ? कैबिनेट सब कमेटी का गठन
मेहरानगढ़ फोर्ट। फाइल फोटो
Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: July 23, 2019, 8:54 AM IST
करीब सात साल पहले जोधपुर में हुई मेहरानगढ़ दुखांतिका के पीड़ितों को न्याय मिलने की आस जगी है. गहलोत सरकार ने मेहरानगढ़ दुखांतिका के लिए कैबिनेट सब कमेटी का गठन किया है. कमेटी तय करेगी कि जस्टिस जसराज चोपड़ा की रिपोर्ट विधानसभा में रखी जाए या नहीं. सरकार ने ऊर्जा मंत्री डॉ. बीडी कल्ला की अध्यक्षता में कैबिनेट सब कमेटी का गठन किया है. कमेटी में यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल और सामाजिक न्याय मंत्री मास्टर भंवरलाल मेघवाल को भी शामिल किया गया है.

23 सितंबर, 2012 को जोधपुर में हुआ था हादसा
23 सितंबर, 2012 को जोधपुर के मेहरानगढ़ फोर्ट में नवरात्रा के दिन मची भगदड़ में 216 लोगों की मौत हो गई थी. पिछली सरकार ने हादसे की जांच के लिए जस्टिस जसराज चोपड़ा जांच आयोग का गठन किया था. जस्टिस जसराज चोपड़ा जांच आयोग ने लंबी जांच-पड़ताल व सुनवाई की थी. आयोग ने अपनी रिपोर्ट तत्कालीन मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को सौंपी दी थी.

रिपोर्ट को अभी तक सार्वजनिक नहीं किया गया

140 पीड़ित परिवारों ने आयोग में हलफनामे देकर दोषियों को सजा दिलाने की मांग कर रखी है. आयोग ने ढ़ाई करोड़ रुपए खर्च कर 222 पीड़ितों व 59 अफसरों के बयान लेकर हादसे के कारण, जिम्मेदारों की लापरवाही और भविष्य में बचाव के उपायों की पूरी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपी थी. लेकिन रिपोर्ट को अभी तक सार्वजनिक नहीं किया गया है. सरकार का कहना था कि रिपोर्ट सार्वजनिक होने से क़ानून व्यवस्था बिगड़ सकती है.

न्याय के इंतजार में पीड़ितों की आंखे पथरा गई
दूसरी तरफ पीड़ित परिवारों की आंखें न्याय का इंतजार करते-करते पथरा गई हैं. हाल ही में राज्य सरकार के महाधिवक्ता महेंद्रसिंह सिंघवी ने हाइकोर्ट में कहा था कि सरकार जांच रिपोर्ट कैबिनेट में रखेगी.
Loading...

सुर्खियां: मजबूत किया जाएगा जयपुर का सुरक्षा तंत्र

पाली के सूखे हलक: एक दशक बाद फिर वॉटर ट्रेन का सहारा
First published: July 23, 2019, 8:45 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...