• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Lockdown 4.0: छूट मिलने से धीमी पड़ी पलायन की रफ्तार, राजस्थान में 2.50 लाख श्रमिकों को मिला रोजगार!

Lockdown 4.0: छूट मिलने से धीमी पड़ी पलायन की रफ्तार, राजस्थान में 2.50 लाख श्रमिकों को मिला रोजगार!

राजस्थान सरकार का दावा है कि प्रदेश में पलायन की रफ्तार धीमी हुई है. सांकेतिक फोटो.

राजस्थान सरकार का दावा है कि प्रदेश में पलायन की रफ्तार धीमी हुई है. सांकेतिक फोटो.

राजस्थान (Rajasthan) के सवा 5 लाख प्रवासियों ने आने के लिए रजिस्ट्रेशन तो करवाया, लेकिन अभी तक लौटे नहीं हैं. लॉक डाउन 4.0 (Lockdown) में उद्योगों को छूट मिलने से पलायन (migration) की रफ्तार धीमी हो गई.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के सवा 5 लाख प्रवासियों ने आने के लिए रजिस्ट्रेशन तो करवाया, लेकिन अभी तक लौटे नहीं हैं. लॉक डाउन 4.0 (Lockdown) में उद्योगों को छूट मिलने से पलायन (migration) की रफ्तार धीमी हो गई. प्रदेश में 12.51 लाख प्रवासियों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया है, लेकिन इसमें से केवल 7 लाख 25 हजार लोग अपने राज्य में आए हैं. प्रदेश में दूसरे राज्यों से आने के लिए 12. 51 लाख लोगों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया है. राजस्थान से जाने के लिए 11.35 लाख लोगों का रजिस्ट्रेशन है, लेकिन सरकारी आंकड़ों के अनुसार अभी तक 2 लाख 33 हजार श्रमिक गए हैं. यानी रजिस्ट्रेशन के बाद लॉक डाउन 4.0 में उद्योगों को छूट मिलने से पहले पलायन की रफ्तार धीमी हो गई.

यूं बदला श्रमिकों का मन
सरकार का दावा है कि प्रदेश से सबसे प्रमुख औद्योगिक क्षेत्र भिवाड़ी नीमराणा में 93 से 86 बड़े आकार की और 45 में से 36 मेगा उद्योगों में उत्पादन शुरू हो गया है. भिवाड़ी में बड़े ब्रांड्स होंडा कार्स, होंडा मोटरसाइकिल, ग्लास निर्माता सैंट गोबैन, कजारिया सिरेमिक्स, डाइकिन आदि कंपनियों की इकाइयों में कामकाज शुरू हुआ है. ऐसे में श्रमिकों ने पलायन करने से अपना मन बदल लिया है. ऐसा माना जा रहा है कि कई प्रवासी रास्ते में है, वहीं कुछ लोग सामान्य होने का इंतजार कर रहे हैं.

इन राज्यों में गए ​श्रमिक
सरकारी आंकड़ों के अनुसार राजस्थान से उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश बिहार गुजरात हरियाणा पंजाब और पश्चिम बंगाल में श्रमिक भेजे गए. जबकि गुजरात महाराष्ट्र मध्य प्रदेश पंजाब हरियाणा उत्तर प्रदेश उत्तराखंड पश्चिम बंगाल बिहार और उड़ीसा से श्रमिक राजस्थान में आए हैं. प्रदेश में धीरे-धीरे उद्योगों का पहिया घूम रहा है. श्रमिकों को रोजगार मिल रहा है. राज्य में लॉक डाउन 4.0 21 मई से 31 मई तक क्रियाशील है. सरकारी आंकड़ों के अनुसार इस दौरान करीब ढाई लाख मजदूरों को राजस्थान में रोजगार मिला है.

ये भी पढ़ें:
राजस्थान: ..तो इसलिए कांग्रेस सरकार के मंत्री ने दिया बीजेपी का साथ, डिप्टी CM पायलट से की ये मांग

Lockdown: दूल्हा नहीं जुटा पाया साहस तो बारात लेकर ससुराल पहुंची दुल्हन, फिर..

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज