लाइव टीवी

मंत्री शांति धारीवाल बोले, हम मीसा बंधुओं को स्वतंत्रता सेनानी नहीं मानते, इसलिए बंद की पेंशन

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: October 14, 2019, 3:36 PM IST
मंत्री शांति धारीवाल बोले, हम मीसा बंधुओं को स्वतंत्रता सेनानी नहीं मानते, इसलिए बंद की पेंशन
यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बाद अब राजस्थान सरकार (Government of Rajasthan) ने भी आपातकाल (Emergency) के दौरान जेल गए मीसा बंदियों (MISA) और डीआरआई बंदियों की पेंशन बंद (Pension) कर दी है. पेंशन के साथ ही उन्हें मिलने वाली नि:शुल्क बस यात्रा सुविधा (Free bus travel facility) और चिकित्सा सुविधा (Medical facility) भी बंद हो गई है.

  • Share this:
जयपुर. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के बाद अब राजस्थान सरकार (Government of Rajasthan) ने भी आपातकाल (Emergency) के दौरान जेल गए मीसा बंदियों (MISA) और डीआरआई बंदियों की पेंशन बंद (Pension) कर दी है. पेंशन के साथ ही उन्हें मिलने वाली नि:शुल्क बस यात्रा सुविधा (Free bus travel facility) और चिकित्सा सुविधा (Medical facility) भी बंद हो गई है. पूर्ववर्ती वसुंधरा राजे सरकार (Vasundhara Raje government) ने मीसा और डीआरआई बंदियों को 'लोकतंत्र रक्षक' (Defender of democracy) का नाम दिया था. बीजेपी ने मीसा बंदियों की पेंशन बंद करने पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए इसे राजनीतिक दुर्भावना से लिया गया फैसला (Decision) बताया है.

कैबिनेट की बैठक में निर्णय पर लगी मुहर
राजधानी जयपुर में सोमवार को सीएमओ में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में इस निर्णय पर मुहर लगाई गई. कैबिनेट की बैठक के बाद यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने मीडिया को जानकारी देते हुए दो टूक कहा कि हम मीसा बंधुओं को स्वतंत्रता सेनानी नहीं मानते हैं. इसलिए उनकी सभी सुविधाएं बंद की गई हैं.

प्रदेश में 1120 मीसा और डीआरआई बंदी हैं

वसुंधरा राजे सरकार ने मीसा और डीआरआई बंदियों को 20 हजार रूपए मासिक पेंशन, नि:शुल्क बस यात्रा और नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा देने की योजना लागू की थी. इमरजेंसी के दौरान जेल में रहे नेताओं को मीसा बंदी के तहत ये पेंशन दी जा रही थी. इन्हें स्वतंत्रता सेनानी की तरह लोकतंत्र सेनानी नाम एवं सम्मान दिया गया था. वर्तमान में प्रदेश में 1120 मीसा और डीआरआई बंदी हैं.

देवनानी बोले सरकार ने लोकतंत्र के सेनानियों का अपमान किया है
मीसा बंदियों की पेंशन बंद करने पर बीजेपी विधायक वासुदेव देवनानी ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पेंशन बंद कर लोकतंत्र के सेनानियों का अपमान किया गया है. कांग्रेस ने साबित किया उसकी मानसिकता अभी भी आपातकाल जैसी है. सरकार आपातकाल का विरोध करने वालों से अब दुश्मनी निकाल रही है.
Loading...

बीजेपी कर सकती है गहलोत सरकार पर हमले तेज
सरकार ने मीसा बंदियों की सभी सुविधाएं बंद करके प्रदेश की सियासत में सियासी तूफान खड़ा कर दिया है. अब विपक्षी पार्टी बीजेपी गहलोत सरकार पर हमले तेज कर सकती है.

अशोक गहलोत सरकार का यू-टर्न, जनता नहीं पार्षद ही चुनेंगे निकाय प्रमुख

अलवर में 145 अपराधियों पर एक साथ 3-3 हजार रुपए का इनाम घोषित

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 3:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...