Assembly Banner 2021

विधानसभा में MLA ने कहा भील और मीना समुदाय से एक व्यक्ति भी नहीं बना IAS

संयम लोढ़ा ने कहा कि भील, मीणा, गमेती, गरासिया समुदाय लगातार उपेक्षित हुआ है.

संयम लोढ़ा ने कहा कि भील, मीणा, गमेती, गरासिया समुदाय लगातार उपेक्षित हुआ है.

राजस्थान के निर्दलीय विधायक (MLA) ने कहा, आजादी के बाद जोधपुर संभाग से एक भी भील-मीना समुदाय (Bheel and Meena tribes) का व्यक्ति आईएएस (Ias) नहीं बना. निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा (Sanyam Lodha) ने शून्यकाल में उठाया मामला.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के निर्दलीय विधायक (MLA) ने कहा, आजादी के बाद जोधपुर संभाग से एक भी भील-मीना समुदाय (Bheel and Meena tribes) का व्यक्ति आईएएस (Ias) नहीं बना. निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा (Sanyam Lodha) ने शून्यकाल में मामला उठाया. आजादी से पहले भील मीना रेजिमेंट थी, लेकिन आजादी के बाद ये समुदाय लगातार पिछड़ रहा है. संयम लोढ़ा ने कहा कि भील, मीना, गमेती, गरासिया समुदाय लगातार उपेक्षित हुआ है. सरकारी नौकरियों में इन समुदायों की भागीदारी नहीं है. आजादी के बाद जोधपुर संभाग से एक भी भील-मीना समुदाय का व्यक्ति आईएएस नहीं बना.

एकलव्य आदिवासी खोले सरकार: एमएलए

संयम लोढ़ा ने कहा कि सरकार जोधपुर संभाग में रहने वाले आदिवासी समुदाय के कल्याण और उत्थान के लिए काम हाथ में ले सके, इसके लिए मारवाड़ आदिवासी बोर्ड का गठन हो. सरकार एकलव्य आदिवासी विद्यालय खोले और कोचिंग संस्थान खोले ताकि जोधपुर संभाग के आदिवासी भी मुख्य धारा में विकास का फायदा ले सकें.



इन जिलों में आदिवासियों की तादाद ज्यादा
जोधपुर संभाग के बाड़मेर, जैसलमेर, सिरोही, जालौर में आदिवासी जातियों की काफी तादाद है, लेकिन इनमें शिक्षा के अभाव में एसटी आरक्षण का फायदा नहीं मिला है. जनजाति उपयोजना क्षेत्र में सिरोही का कुछ ही भाग शामिल है. ऐसे में बाकी इलाकों की आदिवासी जातियों को टीएसपी क्षेत्र में मिलने वाले फायदों से वंचित राहना पड़ता है.

निर्दलीय विधायक संयम लोढ़ा ने इन्हीं सब मुद्दों को उठाते हुए जोधपुर संभाग के आदिवासियों के लिए अलग से बोर्ड बनाने की मांग रखी है. हालांकि इस मांग पर सत्तापक्ष की तरफ से कोई जवाब नहीं दिया गया, लेकिन आने वाले दिनो में यह मुद्दा तूल पकड़ेगा.

यह भी पढ़ें: जयपुर में बड़ा हादसा: गैस सिलेंडर में ब्लास्ट, महिला समेत 2 की मौत

अजमेर दरगाह दीवान बोले- शांति को कमजोर करने वाली चीज का इस्लाम में स्थान नहीं
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज