Rajasthan: बीजेपी में चल रहे घमासान के बीच जोगेश्वर गर्ग बने विधायक दल के सचेतक, जानिये राजनीतिक सफर

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े गर्ग चाैथी बार विधायक बने हैं.

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े गर्ग चाैथी बार विधायक बने हैं.

Rajasthan BJP politics: प्रदेश बीजेपी में चल रहे घमासान के बीच आज बहुप्रतिक्षित पार्टी विधायक दल के सचेतक के पर विधायक जोगेश्वर गर्ग (MLA Jogeshwar Garg) की नियुक्ति कर दी गई है. गर्ग पार्टी के संघ खेमे (RSS Camp) से जुड़े हुये हैं.

  • Share this:
जयपुर/जालोर. राजस्थान बीजेपी (Rajasthan BJP) में चल रहे सियासी घमासान के बीच मंगलवार को विधायक जोगेश्वर गर्ग (MLA Jogeshwar Garg) को पार्टी विधायक दल का सचेतक (Whip) नियुक्त कर दिया गया है. करीब सवा दो साल की उठापटक और वर्तमान में पार्टी में चिट्ठी बम को लेकर मचे घमासान के बाद संघ खेमे के विधायक जोगेश्वर गर्ग को सचेतक बनाया गया है. विधानसभा ने जोगेश्वर गर्ग को सचेतक बनाए जाने का बुलेटिन भी जारी कर दिया है. सचेतक पद की नियुक्ति का अधिकार नेता प्रतिपक्ष के अधीन होता है. गुलाबंचद कटारिया वर्तमान में विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हैं.

जोगेश्वर गर्ग जालौर से विधायक हैं. वे पूर्व में भैरोंसिंह शेखावत के मुख्यमंत्रित्व काल में मंत्री रह चुके हैं. राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े गर्ग चौथी बार विधायक बने हैं. गर्ग अपने राजनीतिक जीवन में संघ और हिंदूवादी संगठनों के साथ हमेशा से सक्रिय रहे हैं.

गर्ग की नियुक्ति के पीछे यह रहा है राजनीति खेल

गर्ग को बीजेपी विधायक दल का सचेतक बनाये जाने के पीछे इसे वसुंधरा खेमे की काट के रूप में देखा जा रहा है. पिछले दिनों राजे खेमे के वरिष्ठ विधायक पूर्व विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने विधायक दल की बैठक में पार्टी विधायक दल का सचेतक नियुक्ति नहीं किये जाने को लेकर नाराजगी जताते हुये सवाल उठाया था. उसके बाद पार्टी में खेमेबंदी को और हवा मिल गई थी. लेकिन अब पार्टी ने संघ खेमे के दलित चेहरे जोगेश्वर गर्ग को सचेतक नियुक्त कर राजे खेमे को जवाब दिया है. इसके जरिये संघ और दलित कार्ड भी दोनों खेले गये हैं.
भैसवाड़ा के रहने वाले हैं गर्ग

संघ पृष्ठभूमि से जुड़े जोगेश्वर गर्ग मूल रूप से भैसवाड़ा के रहने वाले हैं. वे बीजेपी की टिकट पर 1990, 1993, 2003 और 2018 में जालोर से विधायक निर्वाचित हुए. 1998 में पार्टी ने गर्ग का टिकट काटकर गणेशी राम मेघवाल को दिया था. 2013 में बीजेपी ने वसुंधरा खेमे की करीबी अमृता मेघवाल को टिकट दिया था और जोगेश्वर का टिकट काट दिया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज