Gehlot Vs Pilot: कल होगी निर्दलीय विधायकों की बैठक, पायलट पर बरसे MLA रामकेश मीणा, जानिये क्या कहा ?

मीणा ने आरोप लगाया कि सचिन पायलट जातिगत राजनीति करते हैं. ऐसे लोगों को बढ़ावा देंगे तो कांग्रेस को नुकसान होगा.

Rajasthan Political Crisis: राजस्थान में चल रहे सियासी घमासान के बीच कल निर्दलीयों विधायकों की संयुक्त बैठक होगी. बैठक से पहले आज निर्दलीय विधायक रामकेश मीणा ने सचिन पायलट पर गंभीर आरोप लगाये हैं.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में चल रहे सियासी संग्राम (Political crisis) के लिये कल का दिन काफी अहम है. गहलोत और पायलट गुट (Gehlot Vs Pilot) के बीच सत्ता के लिये चल रही रस्साकसी के बीच बुधवार को निर्दलीय विधायकों की संयुक्त बैठक होगी. इस बैठक में पहले बसपा से कांग्रेस में आये हुये 6 विधायक भी शामिल होने वाले थे, लेकिन अब वे इसमें नहीं आयेंगे. इन निर्दलीय विधायकों में से अधिकतर कांग्रेस पृष्ठभूमि के ही हैं और ये गहलोत गुट के ही माने जाते हैं. इससे पहले गंगापुर सिटी से निर्दलीय विधायक रामकेश मीणा ने आज सीधे सचिन पायलट पर हमला बोला है.

बैठक से पहले मंगलवार को विधायक रामकेश मीणा ने सचिन पायलट पर हमला बोलते हुये कहा कि आलाकमान ऐसे नेताओं को बढ़ावा देगा तो पार्टी का ही नुकसान होगा. मीणा ने आरोप लगाया कि सचिन पायलट जातिगत राजनीति करते हैं. ऐसे लोगों को स्टार बताया जा रहा है. ऐसे लोगों को बढ़ावा देंगे तो कांग्रेस को नुकसान होगा. वो आज मुख्यमंत्री बनने की बात करते हैं. सबसे ज्यादा नुकसान तो पायलट ने ही किया है. वो नहीं होते तो विधानसभा चुनाव में 30 सीट ज्यादा आती.

सियासी घटनाक्रम पर होगी चर्चा
विधायक रामकेश मीणा ने बताया कि बैठक कल राजधानी जयपुर में होटल अशोक में शाम पांच बजे होगी. मीणा ने कहा कि हमारा कोई विशेष एजेंडा नहीं है. प्रदेश में जो सियासी घटनाक्रम चल रहा है उस पर चर्चा की जायेगी. बकौल मीणा मैं गहलोत के साथ था, साथ हूं और रहूंगा. मीणा ने दावा किया कि राजस्थान में गहलोत ही एकमात्र व्यक्ति हैं जो कांग्रेस को जिन्दा रख सकते हैं. हम ज्यादातर निर्दलीय विधायक कांग्रेस पृष्ठभूमि के हैं. विधानसभा चुनाव में हमारे टिकट जानबूझकर काटे गए थे.

हम लोगों का मान-सम्मान रहना चाहिए
मीणा यहीं नहीं थमे और कहा कि विधानसभा चुनाव में मेरा टिकट काटकर सिंगापुर से लौटे व्यक्ति को टिकट दे दिया था. मंत्रिमंडल विस्तार मुख्यमंत्री का विशेषाधिकार है. प्रदेश में जिस तरह की परिस्थितियां बनाई जा रही है उससे वे सहमत नहीं हूं. सियासी संकट में हम लोग सरकार के साथ रहे. हम लोगों का मान-सम्मान रहना चाहिए. हम मंत्रिमंडल में हिस्सेदारी के लिए दबाव नहीं बना रहे हैं.

विधायक ओपी हुडला बोले अभी मंत्रिमंडल विस्तार का सही समय नहीं है
वहीं निर्दलीय विधायक ओपी हुडला ने कहा कि कोरोना काल में जिस तरह से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने काम किया है वह काबिले तारीफ है. यह समय कोरोना से जंग लड़ने का है. अभी मंत्रिमंडल विस्तार का सही समय नहीं है. डब्ल्यूएचओ ने भी तीसरी लहर की आशंका जताई है. ऐसे में सभी विधायक मेडिकल सुविधाओं पर ध्यान केंद्रित करें. सीएम ने कोरोना काल में 8 करोड़ लोगों की स्वास्थ्य की चिंता की है. इसके लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का आभार.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.