Modified Lockdown: सड़कों के विकास कार्य फिर से होंगे शुरू, PWD ने कसी कमर

डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने बताया कि सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से आगामी समय में शुरू किए जाने वाले कार्यों की रूपरेखा तैयार कर ली गई है.
डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने बताया कि सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से आगामी समय में शुरू किए जाने वाले कार्यों की रूपरेखा तैयार कर ली गई है.

लॉकडाउन (Lockdown) के कारण अटके पड़े सड़क विकास कार्य एक बार फिर से शुरू करने की तैयारी कर ली गई है. सार्वजनिक निर्माण विभाग (PWD) प्रदेश में सड़क विकास के 2678 कार्य प्रारंभ करने जा रहा है.

  • Share this:
जयपुर. लॉकडाउन (Lockdown) के कारण अटके पड़े सड़क विकास कार्य एक बार फिर से शुरू करने की तैयारी कर ली गई है. सार्वजनिक निर्माण विभाग (PWD) प्रदेश में सड़क विकास के 2678 कार्य प्रारंभ करने जा रहा है. ये रुके हुए सड़क विकास कार्य मॉडिफाई लॉकडाउन में शुरू हो सकेंगे. इनमें श्रमिक प्रधान कार्यों को प्राथमिकता दी जाएगी.

कार्यों की रूपरेखा तैयार कर ली गई है
डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने बताया कि सार्वजनिक निर्माण विभाग की ओर से आगामी समय में शुरू किए जाने वाले कार्यों की रूपरेखा तैयार कर ली गई है. इसके अनुसार करीब 3700 करोड़ रुपये से भी अधिक की लागत से लगभग 8590 किलोमीटर लंबाई की सड़कों के विकास कार्य करवाए जाएंगे. 1056 करोड़ की लागत से 212 किलोमीटर में राष्ट्रीय राजमार्ग के 13 कार्य, केन्द्रीय सड़क निधि योजना में 423 करोड़ की लागत से 71 किलोमीटर लंबाई के 9 कार्य, 403 करोड़ की लागत से 1140 किलोमीटर में गांवों को सड़कों से जोड़ने के 342 कार्य और 913 करोड़ की लागत से 3792 किलोमीटर लंबाई के 1647 अन्य ग्रामीण सड़क कार्यों सहित कई कार्य शुरू हो सकेंगे.

ग्रामीण सड़क तंत्र को मजबूत किया जाएगा
पायलट ने बताया कि रूरल इन्फ्रास्ट्रक्चर डवलपमेंट फंड योजना के तहत कुल 699 सड़कों के विकास तथा नवीनीकरण के लिए 383 करोड़ु रुपये की नाबार्ड से स्वीकृति जारी हो चुकी है. इसकी निविदाएं आमंत्रित की जाएंगी. इस योजना के तहत लगभग 2252 किलोमीटर लंबाई की सड़कों का विकास होगा. उन्होंने बताया कि शीघ्र ही परियोजना के अनुसार कुल 2240 किलोमीटर लंबाई की सड़कों का नवीनीकरण कराया जाएगा. इसमें ग्रामीण सड़क तंत्र को मजबूत करने के लिए अन्य जिला सड़कें एवं मुख्य जिला सड़कें भी शामिल हैं.



सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखा जाएगा
पायलट ने बताया कि प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तीसरे चरण के तहत भी 2200 किलोमीटर लंबाई की सड़कों के अपग्रेडेशन के 237 कार्यों के लिए 1140 करोड़ रुपये की स्वीकृति जारी कर दी गयी है. इसकी भी निविदाएं आमंत्रित की जा रही हैं. वर्तमान में श्रमिक प्रधान कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर शुरू किया जाएगा. कोरोना वायरस बीमारी को ध्यान में रखते हुए कार्य स्थलों पर सोशल डिस्टेंस बनाए रखने, हाथों को बार-बार साबुन से धोने तथा मुंह पर मास्क लगाए रखने जैसे जरूरी दिशा-निर्देशों का भी ध्यान रखा जाएगा.

Jaipur: लॉकडाउन के बीच वाम दलों-संगठनों का प्रदर्शन, अपनाया ये अनूठा तरीका

COVID-19: केन्द्रीय मंत्री मेघवाल ने जयपुर पुलिस पर लगाए ये गंभीर आरोप
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज