मानसून: सीकर और नागौर में बरसे बादल, भारी बारिश की चेतावनी

प्रदेश में देरी से आया मानूसन अब पूरे प्रदेश में छाने लग गया है. रोजना प्रदेश के विभिन्न इलाकों में बादल लगातार बरस रहे हैं. इससे सूखे पड़े बांधों में भी पानी की आवक शुरू हो गई. रविवार को भी प्रदेश के कई इलाकों में अच्छी बारिश हुई.

News18 Rajasthan
Updated: July 7, 2019, 5:57 PM IST
मानसून: सीकर और नागौर में बरसे बादल, भारी बारिश की चेतावनी
कोटा बैराज से छोड़ा जा रहा है 2500 क्यूसेक पानी। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
News18 Rajasthan
Updated: July 7, 2019, 5:57 PM IST
प्रदेश में देरी से आया मानूसन अब पूरे प्रदेश में छाने लग गया है. मानसून की दस्तक के बाद रोजना प्रदेश के विभिन्न इलाकों में बादल लगातार बरस रहे हैं. इससे सूखे पड़े बांधों में भी पानी की आवक शुरू हो गई. रविवार को भी प्रदेश के कई इलाकों में अच्छी बारिश हुई. इससे जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली है, वहीं किसानों के चेहरों पर भी मुस्कान दौड़ गई है.

इन जिलों में हो सकती है मध्यम से भारी बारिश
मौसम विभाग की ओर से 6 जुलाई को जारी चेतावनी के अनुसार 8 जुलाई तक प्रदेश के एक-दो जिलों में भारी हो सकती है. इनमें अजमेर, अलवर, बारां, भरतपुर, भीलवाड़ा, झालावाड़, करौली, कोटा, बूंदी, राजसमंद, सवाई माधोपुर, टोंक, उदयपुर, सिरोही, दौसा, धौलपुर, जयपुर, झुंझुनूं और सीकर शामिल है. मौसम विभाग के अनुसार इनमें से एक-दो जिलों  भारी बारिश की  हो सकती है.

सीकर व नागौर में रविवार को भी बरसे बादल

सीकर में रविवार को लगातार तीसरे दिन इंद्रदेव मेहरबान रहे. वहां सुबह से ही जिलेभर में तेज हवाओं के साथ जोरदार बरसात शुरू हो गई. सीकर से सटे नागौर जिले में भी झमाझम बारिश का दौर चला. नागौर के परबतसर व हरसौर इलाके में मुसलाधार बारिश हुई. वहीं जिले के कुचामन, डीडवाना, जायल और मौलासर में भी बादल बरसे.

कोटा बैराज से छोड़ा जा रहा है 2500 क्यूसेक पानी
कोटा में चार दिन तक लगातार हुई बारिश के कारण कोटा बैराज में पानी की अच्छी आवक हुई है. इसके चलते बैराज से 2500 क्यूसेक पानी छोड़ा जा रहा है. बैराज का एक गेट 2 फीट खोलकर चंबल नदी में पानी की निकासी की जा रही है. बैराज में जवाहर सागर डैम से भी 1600 क्यूसेक पानी की आवक हो रही है. लगातार बारिश से क्षेत्र के कई झरने बह निकले हैं. इसके चलते रविवार को पिकनिक स्पॉट पर लोगों की खासी भीड़ रही.
Loading...

बूंदी में पक्का मकान भरभराकर गिरा
दौसा सिंचाई विभाग की ओर से बीते 24 घंटे की बारिश के जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार सिकराय, लालसोट व बांदीकुई में 2-2 इंच बारिश होने से सूखे पड़े 18 बांधो में से गेटोलाव बांध में 9 इंच पानी की आवक हुई है. बूंदी जिले के नैनवां क्षेत्र के सुवानिया गांव में शनिवार रात को बनवारी नागर का पक्का मकान बारिश के बाद भरभराकर गिर गया. गनीमत रही की समय पर आंख खुल जाने से परिवार के लोग बाहर आ गए, जिससे कोई जनहानि नहीं हुई. अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था. बूंदी में रामेश्वर महादेव और भीमलत महादेव में बारिश के बाद झरना शुरू हो गया. बारिश से जिले के बरधा और चांदा का बांध में हुई पानी की आवक हुई है.

शख्स ने खुद को लगाई आग, वन विभाग कर्मी को भी लपेटा

जयपुर रेप केस: मासूम का गुनाहगार 'जीवाणु' पकड़ा गया
First published: July 7, 2019, 5:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...