नगर निगम चुनाव: गहलोत सरकार के मंत्रियों और विधायकों का रिपोर्ट कार्ड, देखें किसकी कैसी रही परफॉर्मेंस

सीएम गहलोत के गृह नगर  जोधपुर उत्तर नगर निगम क्षेत्र में कांग्रेस ने 80 वार्डों में से 53 पर कब्जा जमाया है.
सीएम गहलोत के गृह नगर जोधपुर उत्तर नगर निगम क्षेत्र में कांग्रेस ने 80 वार्डों में से 53 पर कब्जा जमाया है.

Municipal Corporation Election: जयपुर, जोधपुर और कोटा में 6 नगर निगमों में हुये चुनाव में गहलोत सरकार के मंत्रियों और विधायकों की परफॉर्मेंस (Performance) उनके क्षेत्रों में उनकी पकड़ को दर्शा रही है.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश के जयपुर, जोधपुर और कोटा के 6 नगर निगमों के हुये चुनाव (Municipal Corporation Election) में सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) समेत कई मंत्रियों और दिग्गज नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हई थी. इनमें कुछ नेता भले ही अपने खुद के वार्ड में पार्टी के प्रत्याशी ना जीता पाये हों, लेकिन उनका अपने विधानसभा क्षेत्रों में प्रदर्शन ठीकठाक रहा. राजधानी जयपुर में परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास परफॉर्मेंस (Performance) के आधार पर टॉप पर रहे.

प्रताप सिंह खाचरियावास जयपुर के सिविल लाइन विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं. उनके विधानसभा में क्षेत्र में 24 में से 13 वार्डों में कांग्रेस ने जीत दर्ज करायी है. वहीं दूसरे नंबर पर आदर्श नगर विधायक रफीक खान रहे. आदर्श नगर में स्थित 25 वार्डों में से कांग्रेस के 13 पार्षद जीते हैं. तीसरे नंबर पर विधायक अमीन कागजी रहे. अमीन कागजी जयपुर शहर की किशनपोल सीट से विधायक हैं. इनके विधानसभा क्षेत्र में स्थित 21 वार्डों में से 9 पर पार्टी के पार्षद जीते हैं. वहीं सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी के विधानसभा क्षेत्र हवामहल में 26 में से 9 पार्षद कांग्रेस के जीते हैं.

नगर निगम चुनाव: जयपुर में कैबिनेट मंत्री, मुख्य सचेतक और BJP प्रदेशाध्यक्ष अपने ही वार्डों में नहीं जीता पाये पार्टी को

सीएम गहलोत और मंत्री धारीवाल के क्षेत्र में कांग्रेस का मिला बहुमत


जोधपुर खुद सीएम अशोक गहलोत का गृह क्षेत्र है. वहां गहलोत का विधानसभा क्षेत्र और वार्ड जोधपुर उत्तर नगर निगम क्षेत्र में आता है. इस निगम क्षेत्र में कांग्रेस पार्टी को स्पष्ट बहुमत मिला है. यहां कांग्रेस ने 80 वार्डों में से 53 पर कब्जा जमाया है. वहीं कोटा में राज्य सरकार के दिग्गज मंत्री शांति धारीवाल की प्रतिष्ठा दांव पर थी. वहां शांति धारीवाल के विधानसभा क्षेत्र कोटा उत्तर नगर निगम में पार्टी को शानदार जीत मिली है. कोटा उत्तर में पार्टी ने कुल 70 वार्डों में से कांग्रेस ने 47 सीटों पर जीत दर्ज की है. जबकि कोटा दक्षिण नगर निगम में कांग्रेस ने बीजेपी को बराबर की टक्कर दी है. यहां कुल 80 वार्डों में से कांग्रेस और बीजेपी को बराबर-बराबर 36-36 सीटें मिली हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज