अपना शहर चुनें

States

नगर निगम चुनाव: कल आयेगा पार्षदों का परिणाम, 10 नंवबर को चुने जायंगे महापौर, यह रहेगा कार्यक्रम

नगर नगर के चुनावों से फ्री होते ही राज्य चुनाव आयोग पंचायती राज चुनावों के लिये जुटेगा.
नगर नगर के चुनावों से फ्री होते ही राज्य चुनाव आयोग पंचायती राज चुनावों के लिये जुटेगा.

Municipal Corporation elections: 3 नवंबर को मतगणना होगी और उसी दिन परिणाम घोषित (Result declared) कर दिये जायेंगे. उसके बाद 10 और 11 नवंबर को महापौर और उप महापौर (Mayor and Deputy Mayor) का चुनाव कराया जायेगा.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश की तीन नगर निगम जयपुर ग्रेटर, जोधपुर दक्षिण और कोटा दक्षिण में दूसरे चरण के चुनाव (Municipal Corporation elections) में कुल 59.96 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया है. अब सभी की नजर 3 नवंबर पर टिकी हुई है. 3 नवंबर को सुबह 9 बजे से मतगणना (Counting of votes) शुरू हो जाएगी. शाम तक चुनाव परिणाम आ जाएंगे. इन चुनाव परिणामों के बाद महापौर और उपमहापौर (Mayor and Deputy Mayor) चुनने की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी.

यह रहेगा महापौर और उपमहापौर के चुनाव का कार्यक्रम

- 04 नवंबर को महापौर के लिए जारी होगी लोकसूचना.
- 05 नवंबर नामांकन- पत्र प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि रहेगी.
- 06 नवंबर को नामांकन- पत्रों की संवीक्षा होगी.


- 07 नवंबर तक नाम वापस ले सकेंगे. उसी दिन चुनाव चिन्हों का आवंटन कर दिया जायेगा.
- 10 नवंबर को प्रातः 10 बजे से अपराह्न 2 बजे तक मतदान होगा.
- 10 नवंबर को ही मतदान के तुरंत बाद मतगणना करवाई जाएगी.
- 11 नवंबर को उप महापौर का चुनाव होगा.
- 11 नवंबर को 11 बजे तक नामांकन- पत्र भरे जायेंगे. उसके बाद उनकी जांच होगी. दोपहर 2 बजे तक नाम वापस लिये जा सकेंगे.
- यदि आवश्यक हुआ तो अपराह्न 2.30 बजे से 5 बजे तक करवाया जाएगा. मतदान समाप्ति के तुरंत बाद मतगणना होगी.

राजस्थान में इस दिवाली नहीं चलेंगे पटाखे, Corona के कारण गहलोत सरकार ने लगाई रोक

इनके तत्काल बाद होंगे पंचायती राज के चुनाव
उल्लेखनीय है 29 अक्टूबर और 1 नवंबर को दो चरणों में जयपुर, जोधपुर और कोटा के 6 नगर निगमों के चुनाव करवाये जा चुके हैं. इनका परिणाम 3 नवंबर को घोषित किया जायेगा. नगर नगर के चुनावों से फ्री होते ही राज्य चुनाव आयोग पंचायती राज चुनावों के लिये जुटेगा. आयोग ने पंचायती राज चुनावों की भी तैयारियां पूरी कर ली है. अब राजनीति बड़े शहरों से निकलकर गांवों में जायेगी.

सीएम समेत कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा लगी है दांव पर
नगर निगम के चुनावों में सीएम अशोक गहलोत समेत बीजेपी-कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्षों तथा केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत व राज्य सरकार के कई मंत्रियों की साख दांव पर लगी है. इन चुनावों में दोनों पार्टियों ने पूरा जोर लगाया है. इन चुनावों के परिणामों का असर पंचायती राज चुनावों पर भी पड़ेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज