लाइव टीवी

NAGAUR VIRAL VIDEO CASE: पांचौड़ी थानाप्रभारी को हटाया जाएगा, मंत्री धारीवाल ने सदन में की घोषणा
Jaipur News in Hindi

Goverdhan Chaudhary | News18 Rajasthan
Updated: February 25, 2020, 11:25 AM IST
NAGAUR VIRAL VIDEO CASE: पांचौड़ी थानाप्रभारी को हटाया जाएगा, मंत्री धारीवाल ने सदन में की घोषणा
मंत्री धारीवाल ने पुलिस अधीक्षक की नेगलीजेंस के आरोपों पर कहा कि उन्होंने तेजी से कार्रवाई करते हुए तफ्तीश बदलकर सीओ नागौर को दे दी.

नागौर (Nagaur) जिले में युवक से हुई बर्बरता (Vandalism) के मामले में पांचौड़ी थानाप्रभारी (SHO) को हटाया जाएगा. मंत्री शांति धारीवाल (Minister Shanti Dhariwal) ने विधानसभा में इसकी घोषणा (Announcement) की.

  • Share this:
जयपुर. नागौर (Nagaur) जिले में युवक से हुई बर्बरता (Vandalism) के मामले में पांचौड़ी थानाप्रभारी (SHO) को हटाया जाएगा. मंत्री शांति धारीवाल (Minister Shanti Dhariwal) ने विधानसभा में इसकी घोषणा (Announcement) की. इस मामले में सोमवार शाम को सदन में मंत्री शांति धारीवाल ने सरकार की तरफ से जवाब (Reply) देते कहा कि युवक से 16 तारीख को बर्बरता होने के बावजूद उस थानाप्रभारी को पता नहीं लगता है तो फिर वह क्या थाना चला रहा है ? मंत्री ने कहा कि एसएचओ को अपने क्षेत्र में अपराध का पता नहीं लगे तो वह किस बात का एसएचओ है. वह एसएचओ रहने लायक नहीं है.

सभी 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है
मंत्री धारीवाल ने पुलिस अधीक्षक की नेगलीजेंस के आरोपों पर कहा कि उन्होंने तेजी से कार्रवाई करते हुए तफ्तीश बदलकर सीओ नागौर को दे दी. धारीवाल बोले मैं किसी को बचाने के लिए नहीं हूं. हम आपको राजनीतिक फायदा भी नहीं लेने देंगे. धारीवाल ने कहा कि पीड़ित का मेडिकल बोर्ड से मुआयना कराया गया है. मेडिकल रिपोर्ट मिलना बाकी है. इस मामले में अपहरण की धारा भी जोड़ी गई है. धारीवाल ने सदन को बताया कि 16 से 19 फरवरी के बीच पुलिस के पास न कोई वीडियो पहुंचा और ना ही पीड़ित पक्ष ने कोई शिकायत दी. 19 फरवरी को जानकारी मिलते ही पुलिस ने कार्रवाई की. सभी 7 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. दोनों पीड़ितों को 50-50 हजार रुपए का मुआवजा भी दिया गया है.

कटारिया बोले जो भी जिम्ममेदार हैं उनके खिलाफ कार्रवाई हो



मंत्री के जवाब पर नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने सवाल उठाते हुए कहा कि पीड़ित जब डॉक्टर के पास गए तो उसने पुलिस को सूचित क्यों नही किया ? वीडियो वायरल होने और अखबारों में छपने के बाद एसपी को पता लगता है. एसपी को जब यही पता नहीं तो वह क्या महकमा चला रहा है. कटारिया बोले जो भी जिम्ममेदार हैं उनके खिलाफ कार्रवाई हो.

 

NAGAUR VIRAL VIDEO CASE: विधानसभा में बरपा हंगामा, BJP-RLP ने किया वॉकआउट

 

राजस्थान यूथ कांग्रेस चुनाव: पहली बार ऑनलाइन वोटिंग, महज 25.30 फीसदी हुआ मतदान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 25, 2020, 11:19 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर