• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • नाहरगढ़ के बायोलॉजिकल पार्क के सिद्धार्थ की तन्हाई दूर करेगी जूनागढ़ जू की शेरनी !

नाहरगढ़ के बायोलॉजिकल पार्क के सिद्धार्थ की तन्हाई दूर करेगी जूनागढ़ जू की शेरनी !

एशियाटिक शेर सिद्धार्थ। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

जयपुर के नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में गत करीब डेढ़ साल से तन्हा जिंदगी जी रहे एशियाटिक शेर सिद्धार्थ को जल्द ही नई साथी का साथ मिल सकता है. यह बात दीगर है कि इसके लिए वन विभाग को बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी.

  • Share this:
जयपुर के नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में गत करीब डेढ़ साल से तन्हा जिंदगी जी रहे एशियाटिक शेर सिद्धार्थ को जल्द ही नई साथी का साथ मिल सकता है. यह बात दीगर है कि इसके लिए वन विभाग को बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी. सिद्धार्थ के लिए गुजरात के जूनागढ़ जू से नए साथी के रूप में एशियाटिक शेरनी लाने के प्रयास किए जा रहे हैं. अगर बात बन गई तो जल्द ही सिद्धार्थ की तन्हाई दूर हो सकेगी.

चैत्र नवरात्रा: देवी मंदिरों में गूंजे 'जय माता दी' के जयकारे, उमड़ा आस्था का सैलाब

दरअसल वर्ष 2018 की शुरूआत में ही बायोलॉजिकल पार्क में सिद्धार्थ की जोड़ीदार शेरनी तेजिका तीन शावकों को जन्म देने के बाद चल बसी थी. तब से बायोलॉजिकल पार्क में महारानी का तख्त सूना है. उसके बाद उसके शावक लायॅन सफारी में शिफ्ट हो गए. इससे हमेशा रौबदार रहने वाला सिद्धार्थ पूरी तरह से अकेला हो गया और गुमसुम रहने लगा.

लोकसभा चुनाव: अचानक दिल्ली गए CM गहलोत, 4 सीटों पर पुनर्विचार की संभावना

जूनागढ़ जू ने दिखाया सकारातमक रुख
सिद्धार्थ की इस तन्हाई को दूर करने के लिए वन विभाग लगातार प्रयास कर रहा है. एशियाटिक नस्ल की शेरनी लाने के लिए वन विभाग देश के कई जू और बायोलॉजिकल पार्कों की मिन्नतें कर चुका है, लेकिन कहीं बात नहीं बन पाई. अब गुजरात के जूनागढ़ जू ने इस मामले में सकारातमक रुख दिखाया है. लेकिन उसने इसके लिए बड़ी शर्त वन विभाग के सामने रख दी है. जूनागढ़ जू प्रशासन ने शेर के एक जोड़े के बदले में 11 वन्यजीवों की मांग की है.

लोकसभा चुनाव-2019: बीजेपी ने किया पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी का इस्तीफा मंजूर

सीजेडए के नॉर्म्स के मुताबिक एक्सचेंज में देने होंगे वन्य जीव
इस सूची में घड़ियाल और भेड़िया समेत अन्य वन्यजीव शामिल हैं. अब अगर नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क को शेर का जोड़ा चाहिए तो उसके बाद ये उसे सभी वन्यजीव सीजेडए के नॉर्म्स के मुताबिक एक्सचेंज में देने होंगे.

जोधपुर में जनता से बोले सीएम गहलोत, कहा- वैभव आपका बेटा, भाई और पोता

शुरूआती सहमति बन चुकी है
एक तरफ सिद्धार्थ के लिए एक होनहार साथी की तलाश है तो दूसरी और जूनागढ़ जू की एक्सचेंज के बदले 11 वन्यजीवों की बड़ी डिमांड. मामले को लेकर प्रपोजल पर शुरूआती सहमति बन चुकी है. उम्मीद है जयपुर में जल्द ही शेर का एक जोड़ा आएगा जो सिद्धार्थ तन्हा जिंदगी को आबाद करेगा.

लोकसभा चुनाव-2019: कौन हैं नागौर में BJP के तारणहार बनने वाले बेनीवाल ? यहां पढ़े पूरी कहानी

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज