राजस्थान: क्या गुल खिलाएगी ये तारीफ ? CM गहलोत और पायलट खेमे के MLA इन्द्राज गुर्जर ने की एक-दूसरे की प्रशंसा

गहलोत ने विकास कार्य नहीं होने का आरोप लगा रहे पायलट कैम्प के विधायकों को इशारों ही इशारों में इसके जरिये जवाब भी दे दिया है.

New political signs in Rajasthan: पायलट खेमे के विधायक हेमाराम चौधरी के इस्तीफे के बाद प्रदेश कांग्रेस की राजनीति में हलचल मची हुई है. इस बीच एक वर्चुअल कार्यक्रम में सीएम अशोक गहलोत और पायलट खेमे (Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot) के विधायक इन्द्राज गुर्जर ने जब एक दूसरे की जमकर तारीफ तो एक नई सियासी सुगबुगाहट शुरू हो गई है.

  • Share this:
जयपुर. कोरोना काल में मरुधरा की राजनीति (Rajasthan politics) नित नई करवट ले रही है. यहां एक-एक घटनाक्रम के सियासी मायने निकाले जा रहे हैं. सियासी हलकों में ताजा चर्चा सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) और विराटनगर विधायक इन्द्राज गुर्जर (MLA Indraj Gurjar) द्वारा एक-दूसरे की तारीफ की हो रही है. सोमवार को दोनों एक वर्चुअल कार्यक्रम में शामिल हुए और दोनों ने एक-दूसरे की तारीफ (Praise) के पुल बांधे.

विराटनगर से कांग्रेस विधायक इन्द्राज गुर्जर ने पहले सीएम की तारीफ के पुल बांधते हुए कहा कि उन्होंने ढाई साल में विराटनगर क्षेत्र के लिए करीब 125 करोड़ राशि की सड़कें स्वीकृत की हैं. इतना ही नहीं इन्द्राज गुर्जर ने कहा कि सीएम गहलोत ने पहले ही बजट में विराटनगर को सरकारी कॉलेज दिया. पावटा को उपखण्ड मुख्यालय और नगरपालिका बनाया. इसके साथ ही और भी कई काम क्षेत्र में हुए. इस पर सीएम गहलोत ने भी इलाके के विकास के लिए सजग रहने के लिए विधायक इन्द्राज गुर्जर की तारीफ की. सीएम गहलोत ने यह भी कहा कि जनप्रतिनिधि अगर कार्यों में रुचि लेते हैं तो काम जरुर पूरे होते हैं भले ही सरकार किसी भी पार्टी की हो.

इसलिए शुरू हुई सियासी गलियारों में चर्चाएं
सीएम गहलोत और कांग्रेस विधायक के एक-दूसरे की तारीफ करने में यूं तो कोई खास बात नहीं है. लेकिन सियासी गलियारों में चर्चाओं का दौर इसलिए शुरू हुआ है क्योंकि इन्द्राज गुर्जर सचिन पायलट खेमे के विधायक हैं. इन्द्राज गुर्जर को विधानसभा चुनाव का टिकट भी सचिन पायलट की ही बदौलत मिला था. सियासी संकट के दौरान भी इन्द्राज गुर्जर तन-मन से पायलट के साथ थे. इन्द्राज गुर्जर को सचिन पायलट का कट्टर समर्थक माना जाता है.

पासे के रूप में देखा जा रही गहलोत की यह तारीफ
ऐसे दौर में जबकि सचिन पायलट खेमे के दूसरे विधायक सरकार पर काम नहीं होने का आरोप लगाते हुए कार्यकर्ताओं और जनता की नाराजगी का मुद्दा उठा रहे हैं. इन्द्राज गुर्जर द्वारा सीएम गहलोत की तारीफ ने सियासी चर्चाओं का दौर शुरू कर दिया है. वहीं सीएम गहलोत द्वारा इन्द्राज गुर्जर की तारीफ को भी उनके एक पासे के रूप में देखा जा रहा है जो उन्होंने पायलट खेमे की ओर फेंका है. अब सियासी गलियारों में चर्चाएं हैं कि क्या एक-दूसरे की तारीफ के ये पुल प्रदेश की राजनीति में कोई नया गुल खिलाएंगे?

ये निकाले जा रहे हैं सियासी मायने
पिछले दिनों ही पायलट खेमे के विधायक हेमाराम चौधरी ने अपना इस्तीफा विधानसभा अध्यक्ष को भेजा है. हेमाराम चौधरी लगातार क्षेत्र की उपेक्षा और काम नहीं होने के आरोप लगाते रहे हैं. इसके बाद वेदप्रकाश सोलंकी समेत पायलट खेमे के दूसरे विधायकों ने भी क्षेत्र में काम नहीं होने के साथ ही मंत्रिमंडल विस्तार और राजनीतिक नियुक्तियों जैसे मुद्दों को लेकर बयानबाजी की. ऐसे वक्त में पायलट खेमे के विधायक इन्द्राज गुर्जर का क्षेत्र में हुए कार्यों को लेकर गहलोत की तारीफ करना जहां गहलोत खेमे को सियासी फायदा देगा वहीं पायलट खेमे को इससे झटका लगेगा.

गहलोत ने इशारों ही इशारों में दिया जवाब
उधर गहलोत का यह कहना कि क्षेत्र में विकास के लिए जनप्रतिनिधियों को सचेत होना पड़ता है. गहलोत ने विकास कार्य नहीं होने का आरोप लगा रहे विधायकों को इशारों ही इशारों में यह जवाब भी दे दिया है. वहीं इन्द्राज गुर्जर की तारीफों के पुल बांधकर गहलोत ने पायलट खेमे में अपना पासा भी फेंक दिया है. संभव है कि इसका आने वाले दिनों में उन्हें लाभ मिले.