अपना शहर चुनें

States

सुर्खियां: सामने आए सहीराम के राज, लोकसभा चुनाव में युवाओं ने ठोकी ताल

राजस्थान की राजधानी जयपुर से प्रकाशित होने वाले राजस्थान पत्रिका, दैनिक भास्कर, टाइम्स ऑफ इंडिया, हिंदुस्तान टाइम्स प्रमुख समाचार पत्रों की सुर्खियां यहां पढ़ें...

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 30, 2019, 3:38 PM IST
  • Share this:
राजस्थान में नारकोटिक्स के डिप्टी कमिश्नर सहीराम मीणा की गिरफ्तारी के बाद उसकी अवैध संपति से जुड़े कई और राज सामने आए हैं. राजधानी जयपुर से प्रकाशित होने वाले राजस्थान पत्रिका, दैनिक भास्कर, टाइम्स ऑफ इंडिया और हिंदुस्तान टाइम्स आदि प्रमुख समाचार-पत्रों में सहीराम की काली कमाई को लेकर कई खुलासे किए गए हैं. सहीराम मीणा मामले के साथ स्वाइन फ्लू, सर्दी का सितम और यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल और नेता प्रतिपक्ष के विवादास्पद बयान की खबरें भी अखबारों की सुर्खियां बनीं हैं.

राजस्थान पत्रिका ने खुलासा करते हुए 'सहीराम ने बिटकॉइन में लगाई थी 'काले सोने' की कमाई!' शीर्षक से खबर प्रकाशित की है. अखबार ने लिखा है कि विभागीय सूत्रों का दावा है कि सहीराम के टैबलेट में कई राज छिपे हैं. उसने नोटबंदी के बाद खरीदे शेयर और क्रिप्टोकरंसी का जानकारी भी उसमें छिपा रखी है. हालांकि एसीबी अभी तक सहीराम से मोबाइल के अलावा कोई दूसरा गैजेट बरामद नहीं कर पाई है.

ये VIDEO भी देखें- लोकसभा चुनाव के टिकट की रायशुमारी में कांग्रेस नेताओं में चले लात-घूंसे



दैनिक भास्कर ने '300 करोड़ की संपत्ति के दस्तावेज मिले, सहीराम ने बताई 32 बीघा जमीन व 2 प्लॉट' शीर्षक से खबर प्रकाशित करते हुए लिखा है कि अफीम खेती का मुखिया बनाने की एवज में 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते पकड़े गए नारकोटिक्स विभाग के डिप्टी कमिश्नर सहीराम मीणा के तेवर एसीबी की गिरफ्त में आने के बाद भी ठंडे नहीं पड़े रहे हैं. जांच में सामने आया है कि मीणा ने सरकार को अपनी संपत्ति का जो ब्योरा दिया है उसमें भी झोल है.
ये भी पढ़ें- राजस्थान के इन बड़े शहरों में ये हैं आज के पेट्रोल-डीजल के दाम

स्वाइन फ्लू से 3 और मौतें, 29 दिन में 78 की जान गई

दैनिक भास्कर ने स्वाइन फ्लू की खबर को मुख्य पृष्ठ पर जगह देते हुए लिखा है कि प्रदेश में चिकित्सा विभाग की नाकाफी व्यवस्थाओं के कारण स्वाइन फ्लू का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा. पिछले  29 दिन में प्रदेश में स्वाइन फ्लू से पीड़ित 1976 पॉजिटिव मरीज सामने आ चुके हैं जिनमें से 78 की जान जा चुकी है. मंगलवार को भी कोटा, भरतपुर और सीकर में तीन लोगों की मौत हो गई.

ये भी पढ़ें- बच्चों के मामूली झगड़े के दौरान हुई फायरिंग में एक घायल, इलाके में दहशत

सरकार भामाशाह की जगह आयुष्मान भारत योजना करेगी लागू

प्रदेश की कांग्रेस सरकार अब खर्च में कटौती के लिए वसुंधरा सरकार की एक और योजना बंद करने जा रही है. दैनिक भास्कर की खबर के अनुसार भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना की जगह केंद्र की आयुष्मान भारत (जन आरोग्य) योजना लागू होगी. वित्त विभाग ने सरकार से सिफारिश की है भामाशाह योजना में होने वाला 1490 करोड़ रु. का खर्च राज्य सरकार उठा रही है, जबकि आयुष्मान भारत लागू करने पर 60% खर्च केंद्र उठाएगा. यानी आयुष्मान भारत में 900 करोड़ रु. केंद्र सरकार से मिल सकते हैं। इससे राज्य सरकार की बचत होगी.

ये भी पढ़ें- HAJ 2019 से पहले राजस्थान में जमजम पर उठी मांग, क्या है आब-ए-जमजम?

लोकसभा चुनाव में कांग्रेस को जुताऊ की तलाश 
राजस्थान पत्रिका ने लोकसभा चुनाव को लेकर खबर प्रकाशित की है कि विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली कांटे की जीत ने अब लोकसभा चुनाव में पार्टी के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है. विधानसभा में जीतकर आए विधायकों को फिलहाल पार्टी लोकसभा में उतारने का जोखिम नहीं लेना चाहती. इसकी एक वजह यह भी है कि मंत्री और विधायक अब लोकसभा चुनाव लडऩे को तैयार नहीं हैं। ऐसे में 15 से ज्यादा जिलों में जिताऊ उम्मीदवार की तलाश में कांग्रेस के पसीने छूटने शुरू हो गए हैं.

यहां देखें- प्रदेश की तमाम छोटी-बड़ी खबरें, यहां NEWS18 पर देखें LIVE
एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज