जयपुर, कोटा, अजमेर सहित 13 जिलों के शहरी इलाकों में जारी रहेगा रात 8 से सुबह 6 तक का कर्फ्यू

राजस्‍थान के 13 जिलों के मुख्यालयों में फिलहाल नाइट कर्फ्यू जारी रखने का गहलोत सरकार ने फैसला किया है. (फाइल फोटो)

राजस्‍थान के 13 जिलों के मुख्यालयों में फिलहाल नाइट कर्फ्यू जारी रखने का गहलोत सरकार ने फैसला किया है. (फाइल फोटो)

राजस्‍थान सरकार ने आदेश जारी किया है कि 13 जिला मुख्यालयों के शहरी इलाके में Curfew फिलहाल जारी रहेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 9:10 PM IST
  • Share this:
जयपुर. राजस्‍थान सरकार ने एक बार फिर नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) को लेकर अपनी मंशा साफ कर दी है. सरकार ने फिलहाल जयपुर, कोटा, जोधपुर, बीकानेर, उदयपुर, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, नौगार, पाली, टोंक, सीकर और गंगानगर जिले के शहरी इलाकों में नाइट कर्फ्यू जारी रखने का आदेश जारी किया है. राज्य सरकार के अनुसार कोरोना संक्रमण को और बढ़ने से रोकने के लिए नाइट कर्फ्यू को अभी जारी रखा जाएगा. कर्फ्यू रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक जारी रहेगा.

बंद रहेंगे बाजार

इस दौरान सभी 13 जिलों के शहरी इलाकों में स्थित बाजारों को रात 8 बजे से पहले बंद कर दिया जाएगा. साथ ही किसी भी तरह के आयोजन पर रोक रहेगी. लोगों के किसी भी स्‍थान पर जमा होने पर भी पाबंदी रहेगी.

वैक्सीन का ड्राई रन शुरू
वहीं राजस्थान में शनिवार को कोरोना वैक्सीन ड्राई रन शुरू हो गया है. इसके लिए प्रदेश के 7 जिलों में 19 सेंटर्स स्थापित किए गए हैं. जयपुर में 4, भीलवाड़ा में 2, करौली में 2, अजमेर में 2, बांसवाड़ा में 4, जोधपुर में 2 और बीकानेर में 3 सेंटर्स पर ड्राई रन होगा. जयपुर से सभी जिला स्तर पर कोरोना वैक्सीन के वाइल रखने के लिए फ्रीजर सेंटर बनाए जा चुके हैं.



स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना वैक्सीन के ड्राई रन के लिए सभी सेंटर्स पर वेटिंग रूम, वैक्सीन रूम और ऑब्जर्वेशन रूम की व्यवस्था की है. इसके लिए हर सेंटर पर 25-25 हेल्थ वर्कर को बुलाया गया है. जानकारी के मुताबिक, एक व्यक्ति पर वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया 35 मिनट में होगी पूरी. प्रशासनिक अधिकारियों के मुताबिक, ड्राई रन के जरिए कमियों और खामियों को तलाशने पर फोकस होगा. हर सेंटर के लिए संस्थान प्रभारी, जिलास्तरीय अधिकारी, सुपरवाइजर, वैक्सीनेशन अधिकारी, वैक्सीनेटर, मोबलाईजर तैनात होंगे. जिला अधिकारी निरीक्षण के बाद रिपोर्ट शासक को भेजेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज