लाइव टीवी

प्रदेश में अब प्रतिवर्ष एक विश्वविद्यालय उत्कृष्टता के लिए पुरस्कृत किया जाएगा

Sudhir sharma | News18 Rajasthan
Updated: November 5, 2019, 3:24 PM IST
प्रदेश में अब प्रतिवर्ष एक विश्वविद्यालय उत्कृष्टता के लिए पुरस्कृत किया जाएगा
राज्यपाल मिश्र ने कहा कि विश्वविद्यालयों के द्वारा वर्ष पर्यन्त शिक्षा के क्षेत्र में गतिविधियां चलाई जाए.

राज्यपाल कलराज मिश्र ने जोर दिया है कि विश्वविद्यालयों में नवाचार (Innovation) किए जाएं और उन्हें स्मार्ट (Smart) बनाया जाए. विश्वविद्यालयों में प्राथमिकता के आधार पर भर्ती प्रक्रिया (Hiring process) पूरी की जाए.

  • Share this:
जयपुर. राज्यपाल कलराज मिश्र (Governor Kalraj Mishra) ने विश्वविद्यालयों (Universities) के शैक्षणिक माहौल (Academic environment) और प्रबंधन (Management) को बेहतर बनाने के लिए प्रदेश के उच्च शिक्षा से जुड़े अधिकारियों और कुलपतियों (Officers and Vice Chancellors) की राजभवन में बैठक ली. राज्यपाल कलराज मिश्र ने जोर दिया है कि विश्वविद्यालयों में नवाचार (Innovation) किए जाएं और उन्हें स्मार्ट (Smart) बनाया जाए. विश्वविद्यालयों की राशि राष्ट्रीयकृत बैंकों (Nationalized banks) में ही जमा की जाए. वहीं विश्वविद्यालयों में प्राथमिकता के आधार पर भर्ती प्रक्रिया (Hiring process) पूरी की जाए. बैठक में उच्च शिक्षा के विभिन्न चार मंत्रियों को भी आमंत्रित किया गया था, लेकिन चारों ही इस बैठक में शामिल नहीं हुए.

शिक्षा के उन्नयन व विकास में अच्छे परिणाम लाएं
प्रदेश के विश्वविद्यालयों के लिए गठित कुलपति समन्वय समिति की बैठक सोमवार को राजभवन में राज्यपाल कलराज मिश्र की अध्यक्षता में हुई. बैठक में राज्यपाल मिश्र ने कहा कि विश्वविद्यालयों के द्वारा वर्ष पर्यन्त शिक्षा के क्षेत्र में गतिविधियां चलाई जाए. उच्च शिक्षा में नवाचार किए जाएं और शिक्षा के उन्नयन व विकास में अच्छे परिणाम लाए जाएं. राज्यपाल ने कहा कि उच्च शिक्षा की गतिविधियों, नवाचार और उन्नयन के आधार पर प्रदेश में अब प्रति वर्ष एक विश्वविद्यालय को उत्कृष्टता के लिए पुरस्कृत किया जाएगा.

निर्णयों की निरंतर समीक्षा की जाएगी

राज्यपाल ने कहा है कि राजभवन द्वारा लिए गए निर्णयों की निरंतर समीक्षा की जाएगी. सूचना प्रौद्योगिकी के इस युग में सामाजिक परिवेश के बदलते परिप्रेक्ष्य के लिए कार्य करने होगें. मिश्र ने कहा कि राष्ट्र के सर्वागीण विकास में विश्वविद्यालयों की भूमिका महत्वपूर्ण होती है. विश्वविद्यालय देश की युवा शक्ति की पौधशाला हैं. इस शक्ति का समुचित उपयोग आवश्यक है.

फरवरी, 2020 में होगी अगली बैठक
राज्यपाल ने कहा कि उच्च शिक्षा से राष्ट्र व समाज की अपेक्षाएं निरंतर बढ़ती जा रही हैं. उच्च शिक्षा के सामने अनेक चुनौतियां हैं, जिनके समाधान खोजने होंगे. राज्यपाल ने कुलपति समन्वय समिति की बैठक नियमित करने के लिए इसी बैठक में अगली बैठक का समय तय कर दिया है. अगली बैठक फरवरी, 2020 में होगी.
Loading...

पंचायत एंव पंचायत समितियों के पुर्नगठन का फाइनल ड्राफ्ट तैयार

निकाय चुनाव: कांग्रेस ने सतर्कता के लिए मैदान में उतारी वकीलों की फौज

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 5, 2019, 3:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...