शराब की दुकानें खोल दीं, लेकिन गरीब-मजदूर बीड़ी पीता है उसकी तो छूट दीजिए: CPM MLA
Jaipur News in Hindi

शराब की दुकानें खोल दीं, लेकिन गरीब-मजदूर बीड़ी पीता है उसकी तो छूट दीजिए: CPM MLA
माकपा विधायक गिरधारीलाल महिया ने कहा कि, गरीब-मजदूर बीड़ी पीता है, लॉकडाउन के कारण बीड़ी की भारी कालाबाजारी हो रही है. इसमें गरीब पिस रहा है. (फाइल फोटो)

राजस्थान (Rajasthan) के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग (video conferencing) के जरिए सर्वदलीय चर्चा में माकपा (CPM) विधायक गिरधारीलाल महिया (Girdhari Lal Mahia) ने बीड़ी से रोक हटाने का सुझाव दिया. उनके सुझाव पर अशोक गहलोत सहित कॉन्फ्रेंसिंग में मौजूद विधायकों की हंसी छूट गई.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुए सर्वदलीय संवाद में डूंगरगढ़ से माकपा (CPM) विधायक गिरधारीलाल महिया ने अनोखा सुझाव दिया. गिरधारीलाल महिया (Girdhari Lal Mahia) ने गहलोत से कहा, ‘आपने शराब की दुकानें तो खोल दीं, लेकिन गरीब-मजदूर बीड़ी पीता है, उसकी तो छूट दीजिए. मैं बीड़ी नहीं पीता, लेकिन बहुत से लोग बीड़ी पीते हैं, लॉकडाउन के कारण बीड़ी की भारी कालाबाजारी हो रही है. इसमें गरीब पिस रहा है.’ माकपा विधायक महिया के इस सुझाव पर सीएम अशोक गहलोत सहित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मौजूद विधायकों की हंसी छूट गई.

बीड़ी का कॉमनमेन कनेक्शन
बीड़ी पीने वालों की संख्या चुनावी नतीजे प्रभावित करने वाली है. माकपा विधायक गिरधाीलाल का विधानसभा क्षेत्र डूंगरगढ़ का ज्यादातर हिस्सा ग्रामीण है. ग्रामीण इलाकों में तंबाकू का प्रचलन खूब है, तंबाकू कैंसर का बड़ा कारण है लेकिन बीड़ी, जर्दा जैसे तंबाकू उतपादों का सेवन खूब होता है. बीड़ी कॉमन मैन पीता है और उनकी तादाद खूब है, इतनी कि चुनावी जीत हार को तय करती है.

लॉकडाउन में सरकार ने तंबाकू, जर्दा, गुटखा, बीड़ी, सिगरेट पर रोक लगा रखी है. ग्रामीण इलाकों में बीडी के पांच गुना तक दाम वसूलने की सूचनाएं हैं. यही वजह है कि माकपा विधायक ने सीएम की वीसी में बीड़ी की कालाबाजारी का मुद्दा उठाया.
पहले 2 नेता उठा चुके शराब की दुकानें खोलने का मुद्दा


यह पहला मौका नहीं है जब किसी विधायक ने इस तरह का सुझाव दिया हो. इससे पहले कांग्रेस विधायक भरत सिंह सीएम को चिट्ठी लिखकर शराब की दुकानें खोलने की छूट देने की मांग उठा चुके हैं. पूर्व भाजपा विधायक भवानी सिंह राजावत और माकपा विधायक बलवान पूनिया भी शराब की दुकानों को खोलने की पैरवी कर चुके हैं.

राजस्थान में सामने आ चुके हैं 3898 पॉजिटिव केस
राजस्थान में जितनी तेजी से कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीज रिकवर हो रहे हैं, उतनी ही तेजी से लगातार नए मरीज भी सामने आ रहे हैं. सोमवार को प्रदेश में सुबह 9 बजे तक बीते 12 घंटों में 7 दर्जन नए केस सामने आए. इनमें से करीब आधे केस अकेले उदयपर में पाए गए हैं. वहां 11 मई को 40 नए केस पाए गए हैं. राजस्थान में कोरोना वायरस के अब तक 3898 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं, जिनमें से 108 की मौत हो चुकी है.

ये भी पढ़ें -

पति की COVID-19 से मौत के अगले दिन राशन वितरण में तैनात शिक्षिका की भी मृत्यु 

बिना जांच के प्रवासी मजदूरों को यूपी में कराया प्रवेश, फिर मचा घमासान ...
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज