• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • पाकिस्तानी कैदी शकरउल्ला का शव वाघा बॉर्डर पर पाक को सौंपा

पाकिस्तानी कैदी शकरउल्ला का शव वाघा बॉर्डर पर पाक को सौंपा

शकरउल्ला खां। फाइल फोटो

शकरउल्ला खां। फाइल फोटो

राजधानी जयपुर की सेंट्रल जेल में दस दिन पहले आपसी विवाद में साथी कैदियों के हाथों हत्या के शिकार हुए पाकिस्तानी कैदी शकरउल्ला के शव को शनिवार को पाक को सौंप दिया गया. शव को वाघा बॉर्डर पर पाक को सौंपा गया है.

  • Share this:
राजधानी जयपुर की सेंट्रल जेल में दस दिन पहले आपसी विवाद में साथी कैदियों के हाथों हत्या के शिकार हुए पाकिस्तानी कैदी शकरउल्ला के शव को  शनिवार को पाक को सौंप दिया गया. शव को वाघा बॉर्डर पर पाक को सौंपा गया है.

जयपुर जेल में पाकिस्तानी कैदी की हत्या, टीवी की आवाज बढ़ाने पर कैदियों में हुआ था झगड़ा

शव को शुक्रवार शाम को जयपुर से सड़क मार्ग से एक ट्रक में वाघा बॉर्डर के लिए रवाना किया गया था. वहां उसे केन्द्रीय गृह मंत्रालय की ओर से सभी औपचारिकताएं पूरी करने के बाद शनिवार शाम को पाकिस्तान को सौंप  दिया गया. गृह मंत्रालय की ओर से जेल प्रशासन को इस बारे में शुक्रवार को निर्देश दिए गए थे. गृह मंत्रालय से निर्देश मिलने के बाद इंस्पेक्टर एसएस रत्नू के नेतृत्व में सुरक्षाकर्मी सवाई मानसिंह अस्पताल की मोर्चरी में रखे शकरउल्ला खां के शव को लेकर वाघा बॉर्डर के लिए रवाना हो गए थे.

लश्कर-ए-तैय्यबा के लिए पैसा जुटाने के आरोप में सजा काट रहा था शकरउल्ला

ऐसी है जयपुर की सेंट्रल जेल, जहां बदमाश मोबाइल से चलाते हैं गैंग!

उम्रकैद की सजा काट रहा था शकरउल्ला
उल्लेखनीय है कि गत 20 फरवरी को जयपुर सेंट्रल जेल में टीवी देखने के दौरान कैदियों में झगड़ा हो गया था. इस झगड़े में एक पाकिस्तानी कैदी की मौत हो गई थी. कैदी की पहचान आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा जुड़े आतंकी शकरउल्ला के रूप में हुई थी. शकरउल्ला के साथ जयपुर जेल में 8 आतंकी बंद थे. 30 नवंबर 2017 को एडीजे कोर्ट ने सभी आतंकियों को उम्रकैद की सजा सुनाई थी. साल 2010 में एटीएस ने इन आतंकियों को गिरफ्तार किया था जिन्हें बाद में आंतक के लिए फंड जुटाने में दोषी पाया गया. इनमें से एक कैदी शकरउल्ला था.

पाकिस्तानी कैदी की हत्या का मामला: जेल अधीक्षक को हटाया, डिप्टी जेलर भी एपीओ

ऐसे पकड़ा गया था जयपुर जेल में मारा गया लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी शकर उल्लाह

भारत-पाक युद्ध-1965 की अनसुनी दास्तां, 9 बार ब्लास्ट करके सेना ने ग्रामीणों को दिया ये तोहफा

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज