Rajasthan: प्रदेश की सियासत में फिर गरमाया मीणा/मीना विवाद, यह है वजह
Jaipur News in Hindi

Rajasthan: प्रदेश की सियासत में फिर गरमाया मीणा/मीना विवाद, यह है वजह
पाली जिला कलक्टर ने 6 जुलाई को इस संबंध में कार्मिक विभाग से मार्गदर्शन मांगा है.

प्रदेश की सियासत में लंबे समय से चला आ रहा मीणा /मीना विवाद समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है. एलडीसी भर्ती- 2018 के एक चयनित अभ्यर्थी को नियुक्ति नहीं देने पर यह विवाद एक बार फिर गरमाने लग गया है.

  • Share this:
जयपुर. प्रदेश की सियासत में लंबे समय से चला आ रहा मीणा /मीना विवाद (Dispute) समाप्त होने का नाम नहीं ले रहा है. एलडीसी भर्ती- 2018 के एक चयनित अभ्यर्थी को नियुक्ति (Appointment) नहीं देने पर मीणा/ मीना विवाद एक बार फिर गरमाने लग गया है. इस अभ्यर्थी को नियुक्ति इसलिए नहीं दी गई है क्योंकि उसके आवेदन फार्म और जाति प्रमाण-पत्र पर अलग-अलग जाति दर्ज है. अभ्यर्थी के आवेदन फॉर्म पर मीणा और जाति प्रमाण-पत्र पर मीना दर्ज है. नियुक्ति देने के संबंध में पाली जिला कलक्टर ने राज्य के कार्मिक (क-2) विभाग से मार्गदर्शन मांगा है.

पाली कलक्टर ने कार्मिक विभाग से मांगा मार्गदर्शन
एलडीसी भर्ती-2018 के चयनित अभ्यर्थी सुग्रीव मीणा को राज्य के प्रशासनिक सुधार विभाग ने पाली जिला आवंटित किया है. पाली जिला कलक्टर ने 6 जुलाई को इस संबंध में कार्मिक विभाग से मार्गदर्शन मांगा है. इसमें कहा गया है कि अभ्यर्थियों की इन-पर्सन-काउंसलिंग कर नियुक्ति से पूर्व दस्तावेजों की जांच की गई. जांच के दौरान अभ्यर्थी सुग्रीव मीणा पुत्र अमर सिंह मीणा मेरिट नंबर-24240, रोल नंबर 2270440 के आवेदन फार्म में मीणा तथा जाति प्रमाण-पत्र में मीना दर्ज होने के कारण उनकी नियुक्ति के आदेश जारी नहीं किए गए हैं. अभ्यर्थी सुग्रीव मीणा के मूल फार्म तथा जाति प्रमाण-पत्र में जाति अलग-अलग दर्ज होने से नियुक्ति प्रदान करने के संबंध में कार्मिक (क-2) विभाग से उचित मार्गदर्शन कराये.

Jaipur: निजीकरण के बाद राजस्थान के 4 से 9 शहरों के बीच चलेंगी फास्ट ट्रेनें, सुविधा पर ये करना पड़ेगा खर्च
पिछली वसुंधरा सरकार में हुआ था विवाद


पिछली वसुंधरा सरकार ने एसटी और एससी संगठनों की मांग को देखते हुए विवाद को जन्म देने वाला नोटिफिकेशन वापस ले लिया था. तत्कालीन सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्री अरुण चतुर्वेदी ने कहा था नोटिफिकेशन वापस लेते ही मीणा-मीना विवाद समाप्त हो गया है. राज्य सरकार ने कोर्ट में हलफनामा दिया है कि मीना-मीणा एक ही शब्द है. नोटिफिकेशन वापस लेने के मामले में पर डॉ. किरोड़ीलाल मीणा ने कहा था कि मीणा-मीना विवाद का स्थायी समाधान नहीं हुआ है. राज्य सरकार ने जैसे कोर्ट में हलफनामा दिया है कि मीना-मीणा एक ही शब्द है. वैसे ही केंद्र में भी हलफनामा देकर उसकी सूची में भी इसे नोटिफाइड कराया जाना चाहिए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading