लाइव टीवी

पंचायत चुनाव 2020: चौथे चरण पर लगी रोक, पहले तीन चरणों में भी फेरबदल, अब यह है स्थिति
Jaipur News in Hindi

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: January 10, 2020, 4:16 PM IST
पंचायत चुनाव 2020: चौथे चरण पर लगी रोक, पहले तीन चरणों में भी फेरबदल, अब यह है स्थिति
आयोग अब तीन चरणों में सिर्फ 6,759 ग्राम पंचायतों में चुनाव करवाएगा.

राज्य निर्वाचन आयोग (State election commission) ने पंचायत चुनाव (Panchayat Election) को लेकर बड़ा निर्णय लेते हुए चौथे चरण के चुनावी कार्यक्रम पर आगामी आदेशों तक रोक लगा दी है. आयोग ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के फैसले के बाद चौथे चरण का चुनाव कार्यक्रम फिलहाल स्थगित (Postponed) कर दिया है.

  • Share this:
जयपुर. राज्य निर्वाचन आयोग (State election commission) ने पंचायत चुनाव (Panchayat Election) को लेकर बड़ा निर्णय लेते हुए चौथे चरण के चुनावी कार्यक्रम पर आगामी आदेशों तक रोक लगा दी है. आयोग ने सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) के फैसले के बाद चौथे चरण का चुनाव कार्यक्रम फिलहाल स्थगित (Postponed) कर दिया है. अब आयोग चौथे चरण के लिए नए सिरे से चुनाव कार्यक्रम (New election program) घोषित करेगा. वहीं पहले के तीन चरणों में जिन पंचायतों में चुनाव कराया जाना प्रस्तावित था उनकी संख्या भी घट गई है. पहले के तीन चरणों में भी नवगठित पंचायतों (Newly formed panchayats) में चुनाव नहीं होंगे.

चौथे चरण के लिए संशोधित चुनाव कार्यक्रम जारी
आयोग ने पूर्व में चौथे चरण के लिए 22 जनवरी को लोक सूचना जारी करने का आदेश दिया था, लेकिन अब इसे रोक दिया गया है. चौथे चरण में प्रदेश की 1,950 ग्राम पंचायतों के सरपंच और 18,914 वार्डों पंचों के लिए 1 फरवरी को मतदान प्रस्तावित था. आयोग ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा जोधपुर हाईकोर्ट के आदेश पर रोक लगाने के बाद चौथे चरण के लिए संशोधित चुनाव कार्यक्रम जारी करने का निर्णय लिया है. आयोग के अधिकारियों का कहना है कि पुर्नगठन के बाद चौथे चरण में शेष बची सभी ग्राम पंचायतों के चुनाव कराए जाएंगे.

पहले तीन चरणों में भी अब 6,759 ग्राम पंचायतों में ही होगा चुनाव

राज्य निर्वाचन आयोग ने प्रथम तीन चरणों के चुनाव कार्यक्रम में भी संशोधन किया है. आयोग ने गत माह 26 दिसंबर को तीन चरणों का चुनावी कार्यक्रम जारी किया था. उसके अनुसार तीन चरणों में पहले 9,171 ग्राम पंचायतों में चुनाव कराने का कार्यक्रम जारी किया था. इन तीनों चरणों में 9,171 ग्राम पंचायतों के लिए 94,400 वार्डो पंच सरपंच चुने जाने थे. इसके लिए 34,525 मतदान केंद्र बनाए गए थे. लेकिन अब आयोग पहले तीन चरणों में भी सिर्फ 6,759 ग्राम पंचायतों में चुनाव करवाएगा. शेष बची ग्राम पंचायतों का चुनाव चौथे चरण में होगा. प्रदेश में 11,123 ग्राम पंचायतें हैं.

पंचायत चुनाव फैक्ट फाइल

प्रथम चरण- 87 पंचायत समितियों की 2,726 ग्राम पंचायतों में चुनाव होंगे. इसमें 26,800 वार्डों में पंच-सरपंच चुने जाएंगे. इसके लिए 10,206 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. 

दूसरा चरण- 74 पंचायत समितियों की 2,333 ग्राम पंचायतों में चुनाव होंगे. इसमें 22,593 वार्डों के लिए पंच-सरपंच चुने जाएंगे. इस चरण के लिए 8,365 मतदान केंद्र बनाए गए हैं.

तीसरा चरण- 49 पंचायत समितियों की 1,700 ग्राम पंचायतों में चुनाव होंगे. इस चरण में 17,516 वार्डों के लिए पंच-सरपंच चुने जाएंगे. वहीं इसके लिए 6,712 मतदान केंद्र बनाए गए हैं.

मतदान की तारीखों में नहीं किया गया है बदलाव
पहले चरण के चुनाव के लिए 17 जनवरी को मतदान होगा. दूसरे चरण का चुनाव 22 जनवरी को होगा, जबकि तीसरे चरण का चुनाव 29 जनवरी को होगा. दूसरे चरण के चुनाव के लिए 11 जनवरी को लोक सूचना जारी की जाएगी. 13 जनवरी को नामांकन-पत्र दाखिल किए जा सकेंगे. 14 जनवरी नाम वापसी की अंतिम तारीख होगी. तीसरे चरण के चुनाव के लिए 18 जनवरी को लोक सूचना जारी की जाएगी. 20 जनवरी को नामांकन पत्र दाखिल किए जा सकेंगे. 21 जनवरी नाम वापसी की अंतिम तारीख होगी. 29 जनवरी को मतदान होगा.

 

Jaipur: उत्तर प्रदेश के डीजी होमगार्ड की पत्नी बनी निर्विरोध सरपंच

खुशखबरी: संविदाकर्मियों को गहलोत सरकार देगी राहत, जल्द हो सकते हैं स्थाई !

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 10, 2020, 4:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर