• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • पंचायत चुनाव: सरपंच उम्मीदवार ने तोड़े खर्चे के सभी रिकॉर्ड, कहा- सब जनता कर रही है

पंचायत चुनाव: सरपंच उम्मीदवार ने तोड़े खर्चे के सभी रिकॉर्ड, कहा- सब जनता कर रही है

हनुमान खरबास महापुरा ग्राम पंचायत के सरपंच पद के उम्मीदवार हैं. वे जब प्रचार के लिए निकलते हैं तो करीब एक KM से ज्यादा लंबा लग्जरी वाहनों का काफिला उनके साथ होता है.

हनुमान खरबास महापुरा ग्राम पंचायत के सरपंच पद के उम्मीदवार हैं. वे जब प्रचार के लिए निकलते हैं तो करीब एक KM से ज्यादा लंबा लग्जरी वाहनों का काफिला उनके साथ होता है.

गांव की सरकार का मुखिया बनने के लिए कई उम्मीदवारों (Candidates) ने इस बार खर्चे की सभी हदें तोड़ डाली है. जयपुर (Jaipur) जिले की सांगानेर पंचायत समिति के महापुरा (Mahapura) गांव के एक उम्मीदवार ने खर्चे के नए रिकॉर्ड (New records) स्थापित कर दिए हैं.

  • Share this:
जयपुर. गांव की सरकार का मुखिया बनने के लिए कई उम्मीदवारों (Candidates) ने इस बार खर्चे की सभी हदें तोड़ डाली है. जयपुर (Jaipur) जिले की सांगानेर पंचायत समिति के महापुरा (Mahapura) गांव के एक उम्मीदवार ने खर्चे के नए रिकॉर्ड (New records) स्थापित कर दिए हैं. लेकिन प्रत्याशी का दावा है कि यह सब जनता (Public) ही उन पर खर्च कर रही है. वे खुद कोई खर्चा नहीं कर रहे हैं. इस पंचायत दूसरे चरण में 22 जनवरी को मतदान होना है.

हनुमान खरबास पिछली बार भी सरपंच थे
हनुमान खरबास महापुरा ग्राम पंचायत के सरपंच पद के उम्मीदवार हैं. ये ठेठ देहाती भाषा बोलते हैं. लेकिन जब चलते हैं तो करीब एक किलोमीटर से ज्यादा लंबा लग्जरी वाहनों का काफिला उनके साथ होता है. हनुमान खरबास पिछली बार भी सरपंच थे. हनुमान महज दसवीं तक पढ़े लिखे हैं. वे पंचायत चुनाव में आचार संहिता की खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं. उन्हें न नियम कायदों की परवाह है और न ही कहीं आचार संहिता के पालन की चिंता. इस संबंध में सवाल पूछने पर वे एक ही रटारटाया जवाब देते हैं कि सब जनता का है. जनता ही खर्च कर रही है.

हनुमान का दावा उनके पास कुछ नहीं है
हनुमान दावा करते हैं कि उनके पास 15 साल पुरानी मारूति 800 कार के अलावा कोई वाहन नहीं है और ना ही कोई बैंक बेलैंस हैं. चुनाव की जमानत राशि भी जनता ने जमा करवाई है. 5 साल सरपंच रहते दिन रात जनता के लिए काम किए. सर्दी, गर्मी और बारिश की कभी परवाह नहीं की. सड़क, बिजली, पानी, शिक्षा चिकित्सा के क्षेत्र में बेहतरीन काम किए हैं. इसलिए जनता खुद घरों से निकलकर उन्हें जिताने के लिए उनके साथ घर घर जा रही है. अगर चुनाव आयोग उनसे जवाब तलब भी करेगा तो इसका जवाब भी जनता ही देगी.

जोरशोर से चुनाव प्रचार में जुटे हैं हनुमान
बकौल हनुमान खरबास उन्होंने जनता को मना भी किया है कि गाड़ी घोड़ों की जरुरत नहीं है. हनुमान बताते हैं कि गत कार्यकाल में किए गए कामकाज के बूते ही जनता उनके साथ जुटी हुई है. बहरहाल हनुमान नियम कायदों की परवाह नहीं करते हुए जोरशोर से अपने चुनाव प्रचार में जुटे हैं.



पंचायत चुनाव: दुबई से सरपंच का चुनाव लड़ने आई सीकर की बहू, लाखों रुपए का सालाना पैकेज छोड़ा

CM गहलोत के बड़े फैसले: अब SC और अल्पसंख्यक मेधावी छात्राओं को भी मिलेगी स्कूटी

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज