Panchayat Raj elections: कांग्रेस ने फिर अपनाया 'गुपचुप' फॉर्मूला, प्रत्याशियों की सूची जारी, पर नहीं किया सार्वजनिक

कांग्रेस के इस गुपचुप फॉर्मूले पर पार्टी के नेता ही सवाल उठा रहे हैं.
कांग्रेस के इस गुपचुप फॉर्मूले पर पार्टी के नेता ही सवाल उठा रहे हैं.

Panchayati Raj Elections: कांग्रेस ने बगावत के डर से नगर निगम चुनावों की तर्ज पर पंचायत चुनावों में भी नामांकन दाखिल करने के अंतिम दिन प्रत्याशियों (Candidates) की सूची तो जारी कर दी, लेकिन उसे सार्वजनिक नहीं किया.

  • Share this:
जयपुर. कार्यकर्ताओं की नाराजगी और बगावत के डर से कांग्रेस (Congress) ने जिला परिषद और पंचायत समिति सदस्य के चुनाव के लिए भी 'गुपचुप' फॉर्मूले को अपनाया है. कांग्रेस ने गुपचुप फॉर्मूले के तहत इन चुनावों में भी पार्टी प्रत्याशियों की सूची तो जारी कर दी है, लेकिन उसे सार्वजनिक नहीं किया गया है. इसका सिवाय टिकट जारी करने वाली कमेटी और प्रत्याशियों के अलावा किसी को पता नहीं है. पार्टी कार्यकर्ताओं और आमजन को अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि कांग्रेस का प्रत्याशी (Candidate) कौन है ?

जिला परिषद और पंचायत समिति चुनाव के लिये नामांकन दाखिल करने का सोमवार को अंतिम दिन है. इसके लिये कांग्रेस ने उम्मीदवारों की सूची जारी तो कर दी, लेकिन उसे सार्वजनिक नहीं किया. पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा ने जिला पर्यवेक्षकों और प्रभारी मंत्रियों को सिंबल सौंपे हैं. उसके बाद पर्यवेक्षकों और प्रभारी मंत्रियों ने सीधे उम्मीदवारों को सिंबल दे दिए. जिला पर्यवेक्षकों और प्रभारी मंत्रियों ने भी उम्मीदवारों की सूची सार्वजनिक नहीं की है. कांग्रेस ने किस वार्ड से किसे अपना उम्मीदवार बनाया है, इसका आमजन को पता ही नहीं लग पाया है.

सचिन पायलट बोले- मैं हर कीमत पर अपने कार्यकर्ताओं और लोगों के साथ

नगर निगम के चुनावों में भी यही फॉर्मूला अपनाया था


कांग्रेस ने हाल ही में जयपुर, जोधपुर और कोटा नगर निगम के चुनावों में भी यही फॉर्मूला अपनाया था. उस समय भी प्रत्याशियों को सीधे सिंबल सौंपे गये थे, ताकि कोई बगावत न कर सके और नामांकन-पत्र दाखिल का समय निकल जाने के बाद कोई पर्चा भी नहीं भर सके. बाद में होने नाराजगी को मिल बैठकर दूर कर लिया जायेगा. लेकिन, कांग्रेस के इस गुपचुप फॉर्मूले पर पार्टी के नेता ही सवाल उठा रहे हैं. बीजेपी ने उम्मीदवारों की सूचियां जारी की हैं, लेकिन कांग्रेस ने गुपचुप फार्मूले को अपनाया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज