Home /News /rajasthan /

राजस्थान के इन 5 जिलों में 'तेल पर लगा ताला', पेट्रोल-डीजल के लिए मची त्राहि-त्राहि

राजस्थान के इन 5 जिलों में 'तेल पर लगा ताला', पेट्रोल-डीजल के लिए मची त्राहि-त्राहि

बीकानेर, चूरू, श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ जिले में रविवार रात 12 बजे से पेट्रोल पंप बंद हो जाने के कारण  फ्यूल लेने आ रहे उपभोक्ताओं को खाली हाथ लौटना पड़ रहा है.

बीकानेर, चूरू, श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ जिले में रविवार रात 12 बजे से पेट्रोल पंप बंद हो जाने के कारण फ्यूल लेने आ रहे उपभोक्ताओं को खाली हाथ लौटना पड़ रहा है.

Rajasthan Petrol Pump Strike: पेट्रोल और डीजल पर वैट दर घटाने समेत अन्य मांगों को लेकर राजस्थान के बीकानेर, चूरू, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ और बाड़मेर जिले के पेट्रोल पंप डीलर्स अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गये हैं. इसके कारण इन जिलों में पेट्रोल और डीलर के लिये त्राहि-त्राहि मची हुई है. लोग पेट्रोल -डीजल के लिये मारे-मारे फिर रहे हैं, लेकिन उन्हें यह उपलब्ध नहीं हो पा रहा है.

अधिक पढ़ें ...

    जयपुर. पेट्रोल व डीजल (Petrol-Diesel) पर वैट कम करने और अवैध बायो डीजल की बिक्री रोकने की मांग को लेकर राजस्थान के बीकानेर संभाग के पेट्रोप पंप संचालक अनिश्चितकालीन हड़ताल (Indefinite Strike ) पर उतर आये हैं. बीकानेर समेत इस संभाग के श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ और चूरू जिले के पेट्रोल पम्प डीलर्स ने रविवार रात को 12 बजे से हड़ताल कर दी. बाड़मेर में भी पेट्रोल पंप संचालक इन्हीं मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल कर दी है. उसके बाद इन पांचों जिलों में पेट्रोल-डीजल के लिये त्राहि-त्राहि मची है. केवल एम्बुलेंस और फायर ब्रिगेड को बंद से बाहर रखा गया है.

    पेट्रोल पंप संचालकों की मांग है कि पेट्रोल और डीजल पर वैट कम किया जाये. बायो डीजल की अवैध बिक्री पर रोक लगाई जाये. राज्य में पेट्रोल-डीजल की कीमतें पड़ोसी राज्यों के बराबर की जाये. इसके साथ ही संपूर्ण राजस्थान में एक समान विक्रय मूल्य किया जाये. इन मांगों को लेकर बीकानेर के संभाग के चारों जिलों के पेट्रोल डीलर्स ने पूर्व में ही सरकार को सूचना दे दी थी. इनका कहना था कि अगर उनकी मांगें नहीं मानी गई तो वे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जायेंगे.

    रविवार रात को बंद हुये पेट्रोल पंप
    इन जिलों में रविवार रात 12 बजे से पेट्रोल पंप बंद हो जाने के कारण फ्यूल लेने आ रहे उपभोक्ताओं को खाली हाथ लौटना पड़ रहा है. इन इलाकों में पेट्रोल पंप डीलर्स ही नहीं बल्कि उपभोक्ताओं भी पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ रहे दामों की वजह से क्षेत्र में बढ़ रही इसकी तस्करी की सच्चाई को स्वीकारते हैं. कई उपभोक्ताओं ने भी पंप डीलर्स की इन मांगों को जायज बताया है. हड़ताल के कारण इन जिलों में रात से ही लोग पेट्रोल -डीजल के लिये मारे-मारे फिर रहे हैं, लेकिन उन्हें यह उपलब्ध नहीं हो पा रहा है.

    श्रीगंगानगर में पेट्रोल के भाव 119.69 रुपये प्रति लीटर तक पहुंचे
    श्रीगंगानगर जिला पेट्रोल पंप एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष आशुतोष गुप्ता के मुताबिक इन मांगों के बारे में कई बार राज्य सरकार को अवगत कराया जा चुका है. लेकिन अभी तक कोई समाधान नहीं निकल पाया है. श्रीगंगानगर में देश में सबसे महंगा पेट्रोल बिक रहा है. यहां रविवार को पेट्रोल की कीमतों में 36 पैसे और डीजल में 38 पैसे की बढ़ोतरी हुई थी. इस बढ़ोतरी के बाद श्रीगंगानगर में साधारण पेट्रोल के भाव 119.69 और डीजल के 110.55 प्रति लीटर तक जा पहुंचे हैं.

    बाड़मेर में भी अनिश्चितकालीन हड़ताल
    दूसरी तरफ बीकानेर संभाग के अलावा पश्चिमी राजस्थान में जोधपुर संभाग के बाड़मेर जिले में भी पेट्रोल पंप संचालक सोमवार सुबह से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर उतर गये. यहां भी पेट्रोल पंप संचालकों की मांग है कि अवैध बायो डीजल बिक्री पर रोक लगाई जाये और पेट्रोल-डीजल की वैट दरों को घटाया जाये. बाड़मेर पेट्रोल पंप यूनियन के अध्यक्ष पंकज कुमार ने बताया कि इसको लेकर सरकार को पूर्व में ही चेतावनी दे दी गई थी.

    Tags: Petrol diesel prices, Rajasthan latest news, Rajasthan News Update, Strike

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर