होम /न्यूज /राजस्थान /PFI Ban: राजस्थान सरकार ने भी जारी किए आदेश, ATC-SOG समेत इन अधिकारियों काे दिए एक्शन के पावर

PFI Ban: राजस्थान सरकार ने भी जारी किए आदेश, ATC-SOG समेत इन अधिकारियों काे दिए एक्शन के पावर

पीएफआई पर बैन लगाने से पहले पिछले दिनों एनआईए और ईडी ने राजस्थान समेत कई राज्यों में उसके ठिकानों पर छापामारी की थी.

पीएफआई पर बैन लगाने से पहले पिछले दिनों एनआईए और ईडी ने राजस्थान समेत कई राज्यों में उसके ठिकानों पर छापामारी की थी.

PFI Ban: पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (Popular Front of India) को केन्द्र सरकार की ओर से प्रतिबंधित किए जाने के बाद अब राजस्थ ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

PFI पर बैन को लेकर गृह विभाग ने जारी किए आदेश
सीएम अशोक गहलोत ने कल की थी अधिकारियों के साथ बैठक
राजस्थान के सभी जिला मजिस्ट्रेट को भी कार्रवाई की पावर दी गई है

जयपुर. पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (Popular Front of India) को भारत सरकार की ओर से बैन किए जाने के बाद अब इस मामले में राजस्थान सरकार ने भी आदेश जारी कर दिए हैं. गृह विभाग ने अपने आदेश में केन्द्र सरकार की अधिसूचना की अनुपालना और अधिनियम की धारा-42 की शक्तियों का प्रयोग करते हुए विधि विरुद्ध क्रियाकलाप निवारण अधिनियम 1967 की धारा-7 और 8 के अंतर्गत शक्तियों का प्रयोग करने के लिए अधिकारियों को पावर दी है. इसके तहत डीजी, एटीएस-एसओजी, पुलिस आयुक्त जयपुर-जोधपुर,आईजी रेंज और प्रदेश के सभी जिला मजिस्ट्रेट को पीएफआई (PFI) और इसके प्रतिबंधित सहयोगी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए अधिकृत किया गया है.

भारत सरकार ने बुधवार को ही पीएफआई और इसके सहयोगी संगठनों को बैन किया है. इनमें पीएफआई और इससे संबंधित संस्थाओं तथा अग्रणी संगठनों रिहैब इंडिया फाउंडेशन, कैंपस फ्रंट ऑफ इंडिया, ऑल इंडिया इमाम काउंसिल, नेशनल कॉफेडरेशन ऑफ ह्युमन राइट्स ऑर्गेनाइजेशन, नेशनल विमेंस फ्रंट, जूनियर फ्रंट, एम्पावर इंडिया फांउडेशन और रिहैब फाउंडेशन केरल को विधि विरुद्ध संगठन घोषित किया है.

सीएम गहलोत ने कल की थी अधिकारियों के साथ बैठक
भारत सरकार की ओर से पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया को बैन करने के मामले में अब राज्य सरकारों द्वारा भी इसके आदेश जारी किए जा रहे हैं. इस कड़ी में राजस्थान सरकार के गृह विभाग ने इस मामले में कार्रवाई करने को लेकर आदेश जारी किए हैं. सीएम अशोक गहलोत ने बुधवार को गृह विभाग के आला अधिकारियों के साथ की मिटिंग कर पीएफआई पर बैन की समीक्षा की थी.

पिछले दिनों एनआईए और ईडी ने की थी छापामार कार्रवाई
पीएफआई पर बैन लगाने से पहले पिछले दिनों एनआईए और ईडी ने कई राज्यों में उसके ठिकानों पर छापामार कार्रवाई की थी. इस कड़ी में राजस्थान में भी जयपुर, कोटा और बारां जिले में ताबड़तोड़ छापे मारे गए थे. पीएफआई की राष्‍ट्र विरोधी गतिविधियों में संलिप्‍तता की वजह से उस पर और उससे जुड़े संगठनों को प्रतिबंधित कर दिया गया है. पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के खिलाफ यह प्रतिबंधत गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (UAPA) के बेहद सख्‍त प्रावधानों के तहत लगाया गया है. इस संगठन पर आतंकी संगठनों के साथ साठगांठ रखने के भी संगीन आरोप हैं.

Tags: Central government, Jaipur news, PFI, Rajasthan news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें