अपना शहर चुनें

States

PFI पर कसा ED का शिकंजा, 9 राज्यों के 26 ठिकानों पर चल रही है छापेमारी

PFI से जुड़े 9 राज्यों के 26 ठिकानों पर गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय ने छापे की कार्रवाई शुरू की है.
PFI से जुड़े 9 राज्यों के 26 ठिकानों पर गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय ने छापे की कार्रवाई शुरू की है.

पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से जुड़े 9 राज्यों के 26 ठिकानों पर गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने छापे की कार्रवाई शुरू की है. प्रवर्तन निदेशालय की टीम में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के जुड़े दुकानों पर मनी लॉन्ड्रिंग के मामले की जांच कर रही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 3, 2020, 6:47 PM IST
  • Share this:
जयपुर. पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) से जुड़े 9 राज्यों के 26 ठिकानों पर गुरुवार को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने छापे की कार्रवाई शुरू की है. प्रवर्तन निदेशालय की टीम में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के जुड़े दुकानों पर मनी लॉन्ड्रिंग के मामले की जांच कर रही है. ईडी को प्राप्त शिकायतों के अनुसार ग्रुप द्वारा बड़े पैमाने पर विदेशों में धन की लेन-देन की गई है. ईडी ने इस संबंध में राजस्थान के जयपुर सहित दिल्ली केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों में एक साथ छापे की कार्रवाई शुरू की है. छापे की कार्रवाई में ईडी की टीमें सभी ठिकानों से दस्तावेजों को जप्त कर रही है.

9 राज्यों के 26 ठिकानों पर छापेमारी
छापे की कार्रवाई के बाद पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के चेयरमैन ओम अब्दुल सलाम ने ट्वीट कर कहा है कि केंद्र सरकार द्वारा सूची समझी रणनीति के तहत यह कार्रवाई की जा रही है. वहीं, राजस्थान पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया की इकाई द्वारा आरोप लगाया गया है कि केंद्र सरकार बदले की भावना से यह कार्रवाई कर रही है. पॉपुलर फ्रंट के कार्यालय पर ईडी की कार्यवाही, किसान आंदोलन से भटकाने की कोशिश की जा रही है.

छापेमारी को लेकर पीएफआई ने कही यह बात
PFI का कहना है की देश भर में किसान कृषि विधेयक के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. दिल्ली पुलिस द्वारा किसानों के प्रदर्शन को रोकने के लिए सड़क पर खड्डे खोदे गए. सर्द मौसम में वाटर कैनन का इस्तेमाल किया गया. आंसू गैस के गोले दागे गए, फिर भी किसान आंदोलन को रोकने में नाकामी मिली तो अब केंद्र सरकार के इशारे पर पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय पदाधिकारियों सहित राजस्थान के एमडी रोड स्थित प्रदेश कार्यलय जयपुर पर ईडी द्वारा कार्यवाई कर सरकार किसान आंदोलन से जनता का ध्यान भटकाने की कोशिश कर रही है.



जनता का ध्यान भटका रही है केंद्र सरकार- PFI
पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया का आरोप है कि यह कार्यवाई नई नही है. देश मे जहां कहीं भी जनता अपने अधिकारों के लिए सड़को पर आती है, केंद्र सरकार हर बार जनता का ध्यान भटकाने के लिए पॉपुलर फ्रंट पर नये आरोप लगा कार्यवाई में लग जाती है और ईडी एनआईए का इस्तेमाल करती है.

ये भी पढ़ें: देश के इन राज्यों में कड़कनाथ मुर्गे की मांग बढ़ी, धोनी ने शुरू की थी फार्मिंग

पॉपुलर फ्रंट पर इससे पहले भी हादिया वाले केस में लव-जिहाद का आरोप लगा, जिसमे जांच के बाद केरल के डीजीपी द्वारा स्पष्टीकरण दिया गया कि लव जिहाद जैसी कोई चीज जांच में नही पाई गई. दिल्ली दंगो में भी पॉपुलर फ्रंट पर आरोप लगाये गए. मॉरिशीस से 50 करोड़ का आरोप भी ईडी द्वारा लगाया गया.  जांच के बाद ईडी ने क्लीन चिट दे दी. पूर्व में ऐसे कई आरोप ईडी ओर एनआईए द्वारा लगाए गए जो सिद्ध नही कर पाए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज