• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Phone Tapping Case: गजेंद्र सिंह शेखावत को घेरने की कोशिश में खुद घिर गई गहलोत सरकार

Phone Tapping Case: गजेंद्र सिंह शेखावत को घेरने की कोशिश में खुद घिर गई गहलोत सरकार

राजस्थान में फोन टैपिंग केस को लेकर घमासान थम नहीं रहा है। भाजपा और कांग्रेस एक-दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं. आज महेश जोशी समर्थकों ने प्रदर्शन किया है.

राजस्थान में फोन टैपिंग केस को लेकर घमासान थम नहीं रहा है। भाजपा और कांग्रेस एक-दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं. आज महेश जोशी समर्थकों ने प्रदर्शन किया है.

Rajasthan Phone Tapping Case: जयपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस के मुख्य सचेतक महेश जोशी के समर्थन में प्रदर्शन किया। साथ ही उन्होंने केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को चेतावनी भी दी कि उन्हें जयपुर नहीं घुसने देंगे.

  • Share this:
जयपुर. फोन टैपिंग पर केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को घेरने की कोशिश में जुटी राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार खुद घिर गई. राज्य सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी को दिल्ली पुलिस के फोन टेपिंग मामले में पूछताछ के नोटिस के बाद जोशी पेश तो नहीं हुए, लेकिन पूरे मामले को सियासी बनाने की कोशिश में जयपुर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन किया. जयपुर की बड़ी चौपड़ पर ये है कांग्रेस कार्यकर्ताओं का फोन टेपिंग मामले में विरोध प्रदर्शन किया है. प्रदर्शन राजस्थान सरकार के मुख्य सचेतक महेश जोशी के समर्थन और केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के विरोध में किया गया, यहां पर मुठ्ठीभर कार्यकर्ता पहुंचे और उन्होंने महेश जोशी के समर्थन में नारेबाजी की. उन्होंने चेतावनी भी दी कि गजेंद्र सिंह शेखावत को जयपुर नहीं घुसने देंगे.

इस पर बीजेपी ने पलटवार करते हुए कहा है कि जयपुर कांग्रेस की मिल्कियत नहीं है. बीजेपी ने तंज कसा कि आज फोन टैपिंग मामले में दिल्ली पुलिस के नोटिस पर सवाल उठा रहे हैं ये नैतिकता तब कहां गई थी. जब गजेंद्र सिंह शेखावत को नोटिस दिया था. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा जब राजस्थान पुलिस की जांच एजेंसियों ने टेपिंग मामले में FIR दे दी तो फिर गजेंद्र सिंह क्यों पेश हों. दरअसल केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने दो महीने पहले दिल्ली पुलिस में राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विशेषाधिकारी लोकेश शर्मा के खिलाफ केस दर्ज कराकर आरोप लगाया कि लोकेश शर्मा ने ही उनके फोन के टैपिंग का 10 महीने पुराना ऑडियो जारी किया था.

लोकेश शर्मा ने उनका फोन टैप कराया था. लोकेश शर्मा ने दिल्ली पुलिस के केस दर्ज करने को दिल्ली हाईकोर्ट में चुन्नौती दी थी. हाईकोर्ट में 19 जुलाई को सुनवाई है. सबसे राजस्थान के एंटी करप्सन ब्यूरो में तब महेश जोशी ने ही केस दर्ज कराया था. जिसमें शेखावत को आरोपी बनयाा था. इसी वजह से दिल्ली पुलिस ने जोशी को पूछताछ का नोटिस जारी किया, लेकिन जोशी ने ये कहकर पेश होने से इंकार कर दिया कि सीनियर सिटीजन को पेश होने के लिए मजबूर नहीं किया जा सकता है, घर पर पूछताछ होती है. अब दिल्ली पुलिस की टीम जयपुर में उनके घर आएगी पूछताछ करने कि उनके पास फोन टेपिंग की ओडियो टेप कहां से आई.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज