Covid-19: जयपुर, जोधपुर, कोटा के बाद अब उदयपुर में भी प्लाज्मा थेरेपी से Corona का इलाज शुरू
Jaipur News in Hindi

Covid-19: जयपुर, जोधपुर, कोटा के बाद अब उदयपुर में भी प्लाज्मा थेरेपी से Corona का इलाज शुरू
राजस्थान सरकार कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण करने में सफल होने का दावा कर रही है. (फाइल फोटो)

राजस्थान (Rajasthan) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से होने वाली मृत्यु दर को शून्य पर लाने की कवायद शुरू कर दी गई है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में जारी सत्ता का संग्राम के बीच एक अच्छी खबर है. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण से होने वाली मृत्यु दर को शून्य पर लाने की कवायद शुरू कर दी गई है. चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा (Health Minister Dr. Raghu Sharma) ने बताया कि जयपुर, जोधपुर, कोटा के बाद अब उदयपुर में भी प्लाज्मा थेरेपी से कोरोना का इलाज शुरू कर दिया गया है. मंत्री ने कहा कि 'प्रदेश में कोरोना से होने वाली मृत्यु दर को शून्य पर लाने के प्रयास किए जाएंगे. हालांकि, अन्य राज्यों के मुकाबले राज्य में कोराना से होने वाली मृत्यु दर काफी कम है. इसे शून्य पर लाने की कवायद ही अब शुरू की गई है.'

मंत्री डॉ. शर्मा ने कहा कि 'जयपुर, जोधपुर, कोटा के बाद अब उदयपुर में भी प्लाज्मा थेरेपी से इलाज शुरू कर दिया गया है. जल्द ही बीकानेर और अजमेर को भी प्लाज्मा थेरेपी से इलाज की अनुमति मिल जाएगी. उन्होंने कहा कि जल्द ही प्रदेश के जिला अस्पतालों में भी प्लाज्‍मा थेरेपी से इलाज की योजना बनाई जा रही है.'

12 हजार पल्स ऑक्सीमीटर खरीदे जाएंगे
डॉ. शर्मा ने कहा कि विभाग द्वारा जल्द ही 12 हजार पल्स ऑक्सीमीटर खरीदे जाएंगे, जिनसे उन व्यक्तियों की पहचान आसानी से की जा सकेगी जो एसिंप्टोमेटिक या बिना लक्षण के हैं'. चिकित्सा मंत्री ने कहा कि गंभीर रूप से पीड़ित लोगों को 40 हजार कीमत की राशि के इंजेक्शन भी लगाए गए हैं. यह प्रयोग काफी हद तक सफल भी रहा है. उन्होंने कहा कि सरकार इस मामले में काफी संवेदनशील है. इसीलिए विभाग ने आरएमएससीएल को पर्याप्त मात्रा में इंजेक्शन खरीदने के भी निर्देश दे दिए हैं'.
27 स्थानों पर कोरोना की जांच की सुविधा


मंत्री ने कहा कि 'प्रदेश के 27 स्थानों पर कोरोना की जांच की सुविधा विकसित कर दी गई है. जल्द ही प्रदेश के सभी जिलों में कोरोना की जांच की सुविधा मिलने लगेगी. प्रदेश में 500 से ज्यादा मोबाइल वैन गांव-गांव जाकर लोगों को चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध करा रही है. उन्होंने बताया कि अब तक 15 लाख 60 हजार से ज्यादा लोग चिकित्सकीय सुविधा व परामर्श का लाभ उठा चुके हैं'.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading