अपना शहर चुनें

States

PM मोदी ने जालौर बस हादसे पर दुख जताया, 6 यात्रियों की मौत पर CM गहलोत भी दुखी

घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गई.
घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस और प्रशासन की टीम मौके पर पहुंच गई.

राजस्थान के जालोर में करंट की चपेट में आने से बस में सवार 6 यात्रियों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल हो गए. PM नरेंद्र मोदी, CM अशोक गहलोत और लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने मृतकों के प्रति शोक संवेदना प्रकट की.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 17, 2021, 1:31 PM IST
  • Share this:
जयपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने राजस्थान के जालोर में बीती रात हुए दर्दनाक बस हादसे (Road Accident) पर दुख जताया है. पीएम मोदी ने हादसे (Jalore Bus Accident) में हताहत हुए लोगों के परिजनों के प्रति शोक संवेदना प्रकट की है. वहीं, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) और लोकसभा के अध्यक्ष ओम बिरला (Speaker Om Birla) ने भी इस हादसे को लेकर शोक प्रकट किया है.

पीएम मोदी ने बस हादसे को लेकर ट्विटर पर लिखा- राजस्थान के जालौर में हुए बस हादसे की खबर से अत्यंत दुख पहुंचा है. इस दुर्घटना में कई लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है. मैं उनके परिवार वालों के प्रति अपनी संवेदनाएं प्रकट करता हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं. इधर, सीएम अशोक गहलोत ने भी हादसे पर दुख व्यक्त किया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दुर्घटना में मृतकों के प्रति संवेदना जताई है. उन्होंने ईश्वर से शोक संतप्त परिवारजनों को दुख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की है. साथ ही घायलों के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना की है.


लोकसभा अध्यक्ष ने भी जताया शोक
लोकसभा के अध्यक्ष ओम बिरला ने भी जालौर बस हादसे पर शोक संवेदना प्रकट की है. बिरला ने कहा कि बस में करंट से कई लोगों की मृत्यु का समाचार पीड़ादायक है. ईश्वर दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान दें. मैं शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं. ओम बिरला ने हादसे में घायल लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है. बता दें कि बस के करंट की चपेट में आने से आग लग गई, जिससे इस दर्दनाक हादसे (Road Accident) में 6 यात्रियों की मौत हो गई थी. वहीं, 7 अन्य मुसाफिर गंभीर रूप से घायल हो गए. यह दुर्घटना जालोर (Jalore) के महेशपुरा इलाके में हुई. घायलों को जोधपुर के अस्पताल में भर्ती कराया गया.



बस कंडक्टर के गले में फंस गया तार
जानकारी के मुताबिक, यात्रियों से भरी हुई दो बसें रास्ता भटकीं और एक गांव में पहुंच गई. वहां रास्ते में बिजली के तार झूलते देख ड्राइवर ने बस रोक दी. बस का कंडक्टर या खलासी बस की छत पर पहुंचा और एक डंडे की मदद से बिजली के तार को ऊपर उठा कर बस को निकालने की कोशिश करने लगा. इसी दौरान डंडे से बिजली का तार झटक कर कंडक्टर के गले में अटक गया, जिससे कंडक्टर और बस में करंट दौड़ गया. कंटक्टर मौके पर ही झुलस गया. साथ ही बस में करंट दौरने से आग लग गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज