अंतर्राज्यीय चोर गिरोह के 4 सदस्य पुलिस के हत्थे चढ़े, चोरी की मोटरसाइकिल व मोबाइल बरामद

पुलिस के अनुसार बदमाशों ने शहर में करीब 2 दर्जन चोरी की वारदातों को अंजाम दिया है.
पुलिस के अनुसार बदमाशों ने शहर में करीब 2 दर्जन चोरी की वारदातों को अंजाम दिया है.

डीसीपी ने कहा कि गिरफ्तार हुए इन सभी अभियुक्तों का पहले से आपराधिक रिकॉर्ड है. बदमाशों ने शहर में करीब 2 दर्जन चोरी की वारदातों को अंजाम दिया है.

  • Share this:
जयपुर. शहर में चेन स्नैचिंग (Chain Snatching) व मोबाइल चोरी (Mobile Theft) की वारदातों का खुलासा करते हुए पुलिस ने अंतर्राज्यीय चोर गिरोह (Interstate Thief Gang) का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने गिरोह के चार बदमाशों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से चोरी की 7 मोटरसाइकिल और 5 मोबाइल बरामद किए हैं. मामले में 1 अभियुक्त अभी भी फरार चल रहा है. घटना के संदर्भ में डीसीपी कावेन्द्र सागर ने बताया कि स्पेश सिनेमा के पास में 4 संदिग्ध व्यक्ति एक मोटरसाइकिल पर बैठकर भागने का प्रयास कर रहे थे. पुलिस ने पीछा कर आरोपियों को पकड़ लिया. पुलिस जांच पड़ताल में सामने आया कि बदमाशों ने बाइकों की चोरी की थी और वे उन्हें बेचने की फिराक में थे. बनीपार्क पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है.

एक अभियुक्त अभी भी फरार

डीसीपी ने बताया कि गैंग में कुल पांच लोग शामिल हैं जिनमें से एक अभियुक्त फरार चल रहा है. उसे पकड़ने के लिए पुलिस संदिग्ध ठिकानों पर लगातार छापेमारी कर रही है. पुलिस को उम्मीद है कि इस अभियुक्त की गिरफ्तारी के बाद चोरी की और भी चीजें बरामद होंगी. पकड़े गए चोरों में शासकिय नगर थाना क्षेत्र के अखिलेश कुमार के अलावा मोहम्मद हुसैन, मोहम्मद आशिफ और मोहम्मद इब्राहीम हैं.



डीसीपी ने कहा कि गिरफ्तार हुए सभी अभियुक्तों का पहले से आपराधिक रिकॉर्ड है.

डीसीपी ने कहा कि गिरफ्तार हुए इन सभी अभियुक्तों का पहले से आपराधिक रिकॉर्ड है. बदमाशों ने शहर में करीब 2 दर्जन चोरी की वारदातों को अंजाम दिया है. बनीपार्क पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई है.

ये भी पढ़ें - आतंकी हमलों से ट्रक ड्राइवरों में भय का माहौल, दोबारा कश्मीर जाने से की तौबा

ये भी पढ़ें - निकाय चुनाव: 1 नवंबर को जारी होगी अधिसूचना, यहां देखें पूरा चुनाव शेड्यूल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज