• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • Rajasthan Police: वांछित अपराधियों के खिलाफ पुलिस का बड़ा अभियान, 3 सप्ताह में 5837 गिरफ्तार

Rajasthan Police: वांछित अपराधियों के खिलाफ पुलिस का बड़ा अभियान, 3 सप्ताह में 5837 गिरफ्तार

आरोपियों के खिलाफ पुलिस का विशेष अभियान

आरोपियों के खिलाफ पुलिस का विशेष अभियान

Rajasthan Police News : राजस्थान पुलिस ने अभियान चलाकर 4 हजार 992 वांछित अपराधी गिरफ्तार किए हैं. पुलिस के दबाव के चलते 845 अपराधियों ने न्यायालय में समर्पण कर दिया है. अभियान के तहत 283 वांछित ऐसे अपराधी पकड़े गये हैं जिन पर नकद पुरस्कार घोषित था.

  • Share this:

जयपुर. वांछित अपराधियों (Criminals) की धरपकड़ के लिए राजस्थान पुलिस की ओर से 5 जुलाई से शुरू किया गया सघन अभियान (Special drive) अब 31 अगस्त 2021 तक बढ़ा दिया गया है. अभियान के तहत प्रथम 3 सप्ताह में कुल 5837 वांछित व्यक्ति पकड़े जा चुके हैं. इसके अलावा 845 ने न्यायालय में समर्पण (Surrender in court)  किया है. पुलिस महानिदेशक एमएल लाठर (DGP  ML Lathar) ने बताया कि इस अभियान के तहत सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को वांछित व्यक्तियों की गिरफ्तारी के लिए व्यापक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए थे.

पकड़े गए अपराधियों में से 283 पर नकद पुरस्कार घोषित था. वांछित अपराधियों की धरपकड़ अभियान के दौरान पुलिस के सभी थानों ने परस्पर समन्वय किया. इसके तहत संबंधित थाने के साथ ही अन्य थानों द्वारा 241 वांछित अपराधियों को गिरफ्तार कर संबंधित थाने को सुपुर्द किया गया है. वांछित अपराधियों में से 440 व्यक्तियों की मृत्यु की जानकारी भी सामने आई है. जबकी 256 का न्यायालय द्वारा वारंट निरस्त कर दिया गया है.

वांछित 4108 स्थाई वारंटी पकड़े
डीजीपी एमएल लाठर ने बताया कि अभियान के तहत सर्वाधिक 4108 स्थाई वारंटी, 1507 अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 445 मफ़रूर (धारा 299 में वांछित), 398 गिरफ्तारी वारंटी, 69 उद्घोषित अपराधी और 6 पैरोल से फरार अपराधी पकड़े गए हैं. पकड़े गए अपराधियों में से 6 अपराधी 25 लाख से अधिक नकबजनी के हैं. इनमें से एक उद्घोषित अपराधी, 3 मफ़रूर एवं 2 स्थाई वारंटी शामिल है.

अवैध फायर आर्मस केस में वांछित 80 गिरफ्तार
अवैध फायर आर्मस प्रकरणों के कुल गिरफ्तार 80 अपराधियों में से 62 स्थाई वारंटी 14 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित हैं. 3 गिरफ्तारी वारंटी एवं एक उद्घोषित अपराधी शामिल है. इसके अलावा अवैध मादक पदार्थ मामलों के गिरफ्तार 148 अपराधियों में 66 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी हैं, 43 स्थाई वारंटी, 38 मफरूर एवं एक गिरफ्तारी वारंटी शामिल हैं. डकैती के मामलों में गिरफ्तार 53 व्यक्तियों में से 25 स्थाई वारंटी, 16 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 9 मफरूर और 1-1 उद्घोषित अपराधी, गिरफ्तारी वारंटी व पैरोल से फरार अपराधी शामिल हैं.

बलात्कार और पॉक्सो प्रकरणों में वांछित 197 पकड़े
दहेज हत्या के मामलों में गिरफ्तार 13 व्यक्तियों में 11 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित व 2 मफरूर अपराधी शामिल है. बलात्कार व पॉक्सो प्रकरणों में वांछित 197 पकड़े गये हैं. डीजीपी एमएल लाठर ने बताया कि बलात्कार व पॉक्सो प्रकरणों में पकड़े गए 197 व्यक्तियों में से 137 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 33 स्थायी वारंटी, 15 मफरूर, 9 उद्घोषित अपराधी एवं 3 गिरफ्तारी वारंटी शामिल हैं.

सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वाले 145 आरोपी पकड़े
राज्य कर्मी पर हमला, मारपीट व सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के मामलों में पकड़े गए 145 व्यक्तियों में 66 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित थे।  33 स्थाई वारंटी, 29 उद्घोषित अपराधी, 14 मफरूर एवं 3 गिरफ्तारी वारंटी शामिल हैं. सांप्रदायिक सौहार्द्र बिगाड़ने की घटनाओं में शामिल 45 पकड़े गए व्यक्तियों में 36 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित थे और 8 स्थाई वारंटी एवं एक मफरूर शामिल है.

हत्या के मामलों में वांछित 258 पकड़े गए
इसी प्रकार हत्या के मामलों में पकड़े गए 258 वांछित अपराधियों में से 111 मफरूर, 69 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित थे. 65 स्थाई वारंटी, 7 गिरफ्तारी वारंटी, 5 उद्घोषित अपराधी एवं एक पैरोल से फरार अपराधी शामिल हैं. हत्या के प्रयास के मामलों में पकड़े गए 228 अपराधियों में से 152 जैर अनुसंधान प्रकरणों में वांछित अपराधी, 40 मफरूर, 24 स्थाई वारंटी, 7 गिरफ्तारी वारंटी एवं 5 उद्घोषित अपराधी शामिल हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज