Rajasthan Crisis: ऑडियो क्लिप प्रकरण पर रणदीप सुरजेवाला बोले- BJP ने इस बार गलत राज्य चुन लिया

रणदीप सुरजेवाला ने ऑडियो क्लिप प्रकरण पर बीजेपी को जमकर घेरा.

Rajasthan Crisis: राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता रणदीप सुरजेवाला ने BJP पर हमला बोला. उन्‍होंने कहा कि भाजपा सिर्फ सत्‍ता को लूटने में लगी है.

  • Share this:
    जयपुर. राजस्थान के सियासी संकट (Political crisis) के बीच गुरुवार को गहलोत खेमे की ओर से जारी किये गये 3 ऑडियो क्लिप को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने बीजेपी को चौतरफा घेरा है. सुरजेवाला ने शुक्रवार को जयपुर में नवनियुक्‍त पीसीसी चीफ गोविंद डोटासरा के साथ संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए कहा कि बीजेपी ने राजस्थान में चुनी हुई सरकार पर गिराने की घिनौनी साजिश की है. सुरजेवाला ने कहा कि सत्ता लूटने में लगी बीजेपी ने इस बार गलत राज्य चुन लिया है.

    'टेप सामने आने के बाद अब क्या बाकी रह गया'
    सुरजेवाला ने बीजेपी पर कड़े प्रहार करते हुए कहा कि बीजेपी के पास सत्ता की लूटने के अलावा बचा ही क्या है. सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस ने ऑडियो टेप की जांच के लिए एसओजी से शिकायत की है. सुरजेवाला ने एसओजी से केन्द्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग भी की है. उन्होंने कहा कि एसओजी को गजेंद्र सिंह शेखावत, विधायक भंवरलाल शर्मा और संजय जैन को गिरफ्तार करना चाहिए. टेप सामने आने के बाद अब क्या बाकी रह गया है?



    Rajasthan: ...तो वसुंधरा राजे की खामोशी ने बचा ली अशोक गहलोत की सरकार

    पायलट दें सफाई
    प्रेसवार्ता में सुरजेवाला ने हाल ही में मंत्री पद से बर्खास्त किये गये विश्वेन्द्र सिंह और ऑडियो प्रकरण में कथित रूप से शामिल बताये जा रहे सरदारशहर विधायक भंवरलाल शर्मा को कांग्रेस से निलंबित करने की घोषणा की. इसके साथ ही सुरजेवाला ने कहा कि सचिन पायलट को भी इस मामले में सामने आकर सफाई देनी चाहिये.

    Rajasthan crisis: पायलट के 4 खास विधायक मित्रों ने ही बिगाड़ा उनका गेम! पढ़ें इनसाइड स्टोरी

    कल जारी हुई थी 3 ऑडियो क्लिप
    उल्लेखनीय है कि गहलोत खेमे की ओर से गुरुवार को तीन ऑडियो क्लिप जारी की गई थी. इन ऑडियो क्लिप के बारे में दावा किया जा रहा है कि इनमें कथित तौर पर सरदारशहर से कांग्रेस विधायक भंवरलाल शर्मा और केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह का वार्तालाप है. इस वार्तालाप में सरकार गिराने की बातें की जा रही है. इन दोनों की बीच संजय जैन नाम का शख्स मध्यस्तता कर रहा है. ये ऑडियो क्लिप जारी होने के बाद प्रदेश की सियासत में मच रहा घमासान और तेज हो गया था. बीजेपी ने इन ऑडियो क्लिप को फर्जी करार देते हुए इसे पार्टी की छवि धूमिल करने की कोशिश बताया था. वहीं भंवरलाल शर्मा ने भी इस ऑडियो क्लिप को फेक बताया है.