गाय की पूजा पर गरमाई सियासत, मंत्री धारीवाल के बयान पर मचा बवाल

राजस्थान में गाय पर एक बार फिर संग्राम छिड़ गया है. विधानसभा में गाय की पूजा को लेकर मंत्री शांति धारीवाल द्वारा दिए गए बयान के बाद सियासत गरमा गई है.

News18 Rajasthan
Updated: July 23, 2019, 4:06 PM IST
गाय की पूजा पर गरमाई सियासत, मंत्री धारीवाल के बयान पर मचा बवाल
स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल। फाइल फोटो
News18 Rajasthan
Updated: July 23, 2019, 4:06 PM IST
राजस्थान में गाय पर एक बार फिर संग्राम छिड़ गया है. विधानसभा में गाय की पूजा को लेकर स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल द्वारा दिए गए बयान के बाद सियासत गरमा गई है. धारीवाल ने सोमवार को विधानसभा में सावरकर की किताब का हवाला देते हुए कहा था कि गाय निश्चित तौर पर बहुउपयोगी है, लेकिन इसकी पूजा करने का कोई मतलब नहीं है.

'गाय की पूजा करने का कोई मतलब नहीं है'
स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल ने सोमवार रात विधानसभा में अनुदान मांगों पर बहस के दौरान गाय को लेकर यह बयान दिया था. धारीवाल ने सावरकर की एक किताब का जिक्र करते हुए कहा कि उसमें बताया गया है कि गाय निश्चित तौर एक बहुउपयोगी जानवर है. लेकिन उसकी पूजा करने का कोई मतलब नहीं है. इस बात पर उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड़ ने आपत्ति जताई तो सदन में हो-हल्ला शुरू हो गया.

भारत के मुसलमान दुनिया में सबसे श्रेष्ठ

बाद में विधानसभाध्यक्ष डॉ. सीपी जोशी ने यह कहकर मामला शांत किया कि मंत्री यह बात अपने मन से नहीं बोल रहे हैं, बल्कि वो किताब को कोट करते हुए कह रहे हैं. इस दौरान शांति धारीवाल ने मुस्लिम देशों का जिक्र करते हुए भारत के मुसलमानों को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ मुसलमान करार दिया.

देवनानी बोले- एक व्यक्ति के कुछ लिख देने से कोई फर्क नहीं पड़ता
गाय के मुद्दे पर हुए इस विवाद के बाद मंगलवार को विधायक वासुदेव देवनानी ने कहा कि गाय हमारी माता है और कांग्रेस उसे पशु मानती है. देवनानी ने सावरकर द्वारा किताब में गाय की पूजा नहीं करने के सवाल पर कहा कि किसी एक व्यक्ति के कुछ लिख देने से कोई फर्क नहीं पड़ता. धारीवाल ने सावरकर को मिस कॉट किया है.
Loading...

ये भी पढ़ें:

गहलोत सरकार ने पुलिस महकमे के लिए खोला सौगातों का पिटारा

अपराध पर लगेगी लगाम ! जयपुर में अब राउंड द क्लॉक होगी गश्त
First published: July 23, 2019, 3:19 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...