Home /News /rajasthan /

Rajasthan By-polls: वल्लभनगर-धरियावद उपचुनाव से पहले कांग्रेस ने BJP को दिया झटका, पर अभी कई चुनौतियां

Rajasthan By-polls: वल्लभनगर-धरियावद उपचुनाव से पहले कांग्रेस ने BJP को दिया झटका, पर अभी कई चुनौतियां

वल्लभनगर सीट पर जहां टिकट के लिए आधा दर्जन से ज्यादा दावेदार सामने आ रहे हैं तो धरियावद सीट पर योग्य प्रत्याशी की तलाश बड़ी चुनौती है.

वल्लभनगर सीट पर जहां टिकट के लिए आधा दर्जन से ज्यादा दावेदार सामने आ रहे हैं तो धरियावद सीट पर योग्य प्रत्याशी की तलाश बड़ी चुनौती है.

Rajasthan assembly by-election: राजस्थान के मेवाड़ इलाके की वल्लभनगर और धरियावाद विधानसभा सीटें जीतने के लिए कांग्रेस ने अपनी रणनीति को अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया है. इन दोनों ही सीटों पर प्रत्याशी चयन कांग्रेस के लिए बड़ी चुनौती है.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. राजस्थान की वल्लभनगर और धरियावद विधानसभा सीटों के लिए अब कभी भी उपचुनाव (Vallabhnagar-Dhariawad by-election) का ऐलान हो सकता है. बीजेपी और कांग्रेस (BJP-Congress) दोनों ही दल इन सीटों को जीतने की रणनीति तैयार करने में जुटे हैं. चुनाव से पहले जोड़-तोड़ का सिलसिला भी शुरू हो गया है. दोनों ही दल एक-दूसरे के खेमे में सेंध लगाने की जुगत बिठाने में जुटे हैं, ताकि अपने पक्ष में माहौल तैयार किया जा सके. धरियावद उपचुनाव से पहले कांग्रेस ने प्रतापगढ़ नगर परिषद् की सभापति रामकन्या गुर्जर समेत बीजेपी से जुड़े तीन बड़े नेताओं को अपने पाले में कर लिया है.

उपचुनाव से पहले इसे कांग्रेस की एक बड़ी सफलता के तौर पर देखा जा रहा है. इससे कांग्रेस को उस क्षेत्र में गुर्जर वोट साधने में मदद मिलेगी. कांग्रेस की कवायद धरियावद सीट को लेकर ज्यादा नजर आ रही है. इसकी बड़ी वजह यह है कि इस सीट से पिछले दो बार से लगातार बीजेपी प्रत्याशी गौतमलाल मीणा की जीत हुई थी. अब कांग्रेस उपचुनाव में इसे अपने खाते में करना चाहती है. इसके लिए पूरी रणनीति के तहत कांग्रेस तैयारी में जुटी है. रामकन्या गुर्जर को अपने पाले में करके कांग्रेस ने बीजेपी की जीत की संभावनाओं की पहली कड़ी को तोड़ने में सफलता हासिल कर ली है.

प्रत्याशी चुनना रहेगी चुनौती
कांग्रेस के लिए इन दोनों ही सीटों पर प्रत्याशी का चयन करना बड़ी चुनौती होगी. वल्लभनगर सीट पर जहां टिकट के लिए आधा दर्जन से ज्यादा दावेदार सामने आ रहे हैं तो धरियावद सीट पर योग्य प्रत्याशी की तलाश बड़ी चुनौती है. पिछले दिनों तीन सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे राजनीतिक दलों के सामने हैं. ये तीनों ही सीटें दिवंगत विधायकों के परिजनों ने ही जीती थी. ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि वल्लभनगर सीट पर कांग्रेस दिवंगत विधायक गजेन्द्र सिंह शक्तावत के परिवार में ही टिकट देगी ताकि सहानुभूति वोट हासिल किए जा सकें.

शक्तावत परिवार से ही कई दावेदार सामने आ रहे हैं
इसमें पार्टी के सामने सबसे बड़ी चुनौती यह है कि शक्तावत के परिवार में ही टिकट के कई दावेदार सामने आ रहे हैं. उधर धरियावद सीट चूंकि पिछली दो बार से बीजेपी के खाते में है लिहाजा वहां जिताऊ उम्मीदवार ढूंढना कांग्रेस के लिए बड़ी चुनौती है. बीजेपी अगर दिवंगत विधायक गौतमलाल मीणा के परिवार में ही टिकट देती है तो कांग्रेस को यह सीट जीतने में पसीने आना तय है.

Tags: Assembly by election, Rajasthan Congress, Rajasthan latest news, Rajasthan Politics

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर