SC-ST विधायक से भेदभाव, रेप केस और महाराणा प्रताप पर गरमाई राजस्‍थान की सियासत, जानें पूरा मामला

कांग्रेस और बीजेपी विभिन्न मुद्दों पर सदन के अंदर और बाहर एक दूसरे पर हमले कर रही हैं.

कांग्रेस और बीजेपी विभिन्न मुद्दों पर सदन के अंदर और बाहर एक दूसरे पर हमले कर रही हैं.

Political warming in Rajasthan: राजस्थान में इन दिनों विधानसभा के अंदर और बाहर विभिन्न मुद्दों को लेकर सियासत गरमायी हुई है. बीजेपी और कांग्रेस एक-दूसरे पर हमलावर हैं.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान में इन दिनों एससी-एसटी विधायकों से भेदभाव, महाराणा प्रताप के अपमान (Insult to Maharana Pratap) और रेप केसेज (Rape Cases) को लेकर राजनीति जबर्दस्त तरीके से गरमायी हुई है. बीजेपी और कांग्रेस में इनको लेकर घमासान मचा हुआ है. पूर्व मंत्री एवं कांग्रेस विधायक रमेश मीणा की ओर से लगाये गये सदन में भेदभाव के आरोपों को चीफ व्हिप डॉ. महेश जोशी ने खारिज किया है. डॉ. जोशी ने कहा है कि इस मामले को लेकर रमेश मीणा से बात की जाएगी. विधानसभा में अपनी सीट पर माइक न होने के चलते रमेश मीणा की स्पीकर से हाल ही में बहस हो गई थी. इसके बाद रमेश मीणा ने एससी-एसटी विधायकों के साथ भेदभाव का आरोप लगाया था.

मुख्य सचेतक डॉ. महेश जोशी ने कहा कि कोरोना के चलते सदन की 30 फीसदी सीटों को एडजस्ट किया गया है. इसमें कोई भेदभाव नहीं किया गया है. जिन विधायकों की सीट पर माइक नहीं है, उनसे पीछे वाली सीट के माइक को इस्तेमाल करने का आग्रह भी किया गया है. जोशी ने कहा कि हम बीजेपी-कांग्रेस तक का भेदभाव नहीं करते हैं तो एससी-एसटी वर्ग से कैसे भेदभाव करेंगे जो कांग्रेस की रीढ़ की हड्डी हैं.

'रेप पर खुशी मनाने वाले शर्म करें'

केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर के ट्वीट्स को लेकर कांग्रेस ने पलटवार किया है. मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा है कि उन्हें शर्म आनी चाहिए कि वह रेप जैसे मामलों को लेकर भी खुशी मना रहे हैं. जावड़ेकर ने गुरुवार को राजस्थान सरकार का मार्च कैलेंडर शीर्षक के साथ दो ट्वीट किए हैं. इनमें मार्च के महीने में अब तक महिलाओं के साथ हो चुकी रेप और मारपीट जैसी घटनाओं को सिलसिलेवार तरीके से बताया गया है.
'अपराध को रोकना सभी की जिम्मेदारी'

खाचरियावास ने कहा कि अपराध को रोकना सभी की जिम्मेदारी है, लेकिन बीजेपी इसमें भी राजनीति कर रही है. उन्होंने कहा कि बलात्‍कार का आरोपी कोई भी क्‍यों न हो गहलोत सरकार उसे छोड़ेगी नहीं. खाचरियावास ने कहा कि अपराध को बीजेपी-कांग्रेस में नहीं बांटा जाना चाहिए. खाचरियावास ने कहा कि इस तरह की राजनीति से केन्द्र सरकार को फायदा मिलने वाला नहीं है.

महाराणा प्रताप के अपमान पर माफी मांगे बीजेपी



बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया की मौजूदगी में मंच पर महाराणा प्रताप की तस्वीर को नीचे रखे जाने पर भी बखेड़ा खड़ा हो गया है. कांग्रेस इसे महाराणा प्रताप का अपमान बता रही है. खाचरियावास ने कहा कि सतीश पूनिया और बीजेपी के लोगों ने हमेशा महाराणा प्रताप और राम का नाम लेकर वोट मांगे हैं. लेकिन, महाराणा प्रताप के अपमान को लेकर अभी तक माफी नहीं मांगी है. उन्होंने सतीश पूनिया से मामले पर माफी मांगे जाने की मांग की है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज