Home /News /rajasthan /

कोटा: कोचिंग संस्थान शुरू कराने को लेकर सियासत हुई तेज, बीजेपी ने कांग्रेस पर किया पलटवार

कोटा: कोचिंग संस्थान शुरू कराने को लेकर सियासत हुई तेज, बीजेपी ने कांग्रेस पर किया पलटवार

कोटा दक्षिण नगर निगम की पहली बैठक का भाजपा ने बहिष्कार किया. (प्रतिकात्मक फोटो)

कोटा दक्षिण नगर निगम की पहली बैठक का भाजपा ने बहिष्कार किया. (प्रतिकात्मक फोटो)

कोटा में कोचिंग संस्थान को फिर से शुरू करवाने को लेकर राजनीति चरम (Politics extreme) पर है. कांग्रेस और बीजेपी (Congress-BJP) के बीच एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाने का सिलसिला जारी है.

कोटा. कोचिंग सिटी कोटा (Coaching City Kota) में कोचिंग संस्थान वापस शुरू करने को लेकर बीजेपी के विधायकों ने गहलोत सरकार के स्वायत्त शासन मंत्री शांति धारीवाल (Shanti Dhariwal) पर पलटवार किया है. बीजेपी विधायक मदन दिलावर, संदीप शर्मा और कल्पना देवी ने संयुक्त बयान जारी कर कहा कि कोटा में कोचिंग संस्थान प्रारंभ करवाना राज्य सरकार की जिम्मेदारी है. यदि राज्य सरकार के स्तर पर कोई कंफ्यूजन है तो वह इस बारे में केंद्र सरकार (Central government) से मार्गदर्शन मांग सकते हैं. लेकिन इस तरह से मामले को लटकाए रखना कोटा के हित में कतई नहीं है.

विधायक मदन दिलावर ने कहा कि केंद्र सरकार ने 30 सितंबर को जारी मार्गदर्शन में स्पष्ट कहा था की 15 अक्टूबर के बाद राज्य स्थानीय स्तर पर हालात की समीक्षा करते हुए स्कूल व कोचिंग संस्थान प्रारंभ करने की कार्रवाई कर सकते हैं. इसके लिए राज्य सरकारों को केंद्र सरकार के शिक्षा मंत्रालय की ओर से जारी एसओपी के आधार पर अपनी एसओपी जारी करनी होगी. केंद्र सरकार ने 5 अक्टूबर को यह एसओपी भी जारी कर दी. फिर भी राज्य सरकार इस दिशा में आगे नहीं बढ़ रही है. उल्टा केंद्र सरकार पर दोष मढ़कर भ्रम फैलाने का काम कर रही है.

जयपुर में शर्मनाक हरकत, एम्बुलेंसकर्मी ने घायल नवविवाहिता को अस्पताल ले जाते समय चुराये जेवर

राजस्थान सरकार अलग से आदेश आने की बात क्यों कर रही है
कोटा दक्षिण विधायक संदीप शर्मा ने सवाल किया कि जब केंद्र सरकार की ओर से 5 अक्टूबर को जारी की गई एसओपी के आधार पर उत्तर प्रदेश, असम और जम्मू कश्मीर सहित अन्य राज्यों में कोचिंग संस्थान प्रारम्भ हो चुके हैं तो राजस्थान सरकार अलग से आदेश आने की बात क्यों कर रही है. यदि राज्य सरकार इस बारे में केंद्र सरकार के मार्गदर्शन के बिना आगे बढ़ने को तैयार नहीं है तो तुरंत एक पत्र लिखे. बीजेपी के विधायक लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से आग्रह कर तत्काल केंद्र सरकार से मार्गदर्शन जारी करवा देंगे. लाडपुरा विधायक कल्पना देवी ने कहा कि कोचिंग संस्थान प्रारंभ नहीं होना कोटा शहर के विकास के साथ यहां के लोगों तथा छात्रों के हित में नहीं है.

Tags: BJP, Congeress, Corona Days, Educatin

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर