राजधानी जयपुर में पेयजल संकट की आहट, सूखने के कगार पर पहुंचा बीसलपुर बांध

आगामी गर्मियों में राजधानी जयपुर सहित अजमेर, टोंक और दौसा जिलों को पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ सकता है. चार जिलों को पेयजल सप्लाई करने वाले बीसलपुर बांध में पानी सूखने के कगार पर पहुंच गया है.

Rakesh sharma | News18 Rajasthan
Updated: March 16, 2019, 12:51 PM IST
राजधानी जयपुर में पेयजल संकट की आहट, सूखने के कगार पर पहुंचा बीसलपुर बांध
बीसलपुर बांध। फाइल फोटो।
Rakesh sharma | News18 Rajasthan
Updated: March 16, 2019, 12:51 PM IST
आगामी गर्मियों में राजधानी जयपुर सहित अजमेर, टोंक और दौसा जिलों को पेयजल किल्लत का सामना करना पड़ सकता है. चार जिलों को पेयजल सप्लाई करने वाले बीसलपुर बांध में पानी सूखने के कगार पर पहुंच गया है. जलदाय विभाग की ओर से बीसलपुर बांध से अगस्त तक पेयजल सप्लाई करने के सभी तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं.

लोकसभा चुनाव-2019: वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी ने दिया बीजेपी से इस्तीफा

जयपुर सहित चार जिलों की लाइफ लाइन बीसलपुर बांध की सांसें अभी से उखड़ने लगी हैं. बीसलपुर बांध की कुल भराव क्षमता 315.50 आर.एल है. लेकिन अब बांध में कुल भराव क्षमता का सिर्फ 17 फीसदी पानी बचा है. जलदाय विभाग ने बीसलपुर बांध से राजधानी को पेयजल सप्लाई जारी रखने के लिए सभी प्रकार की कृषि के लिए पानी सप्लाई बंद कर दी है. यही नहीं जयपुर और अजमेर जिलों को छोड़कर अन्य जिलों में बीसलपुर से पेयजल की सप्लाई भी लगभग बंद कर दी गई है.



राजस्व मंत्री हरीश चौधरी बोले, कर्नल सोनाराम को मूल जगह वापस आना चाहिए

लोकसभा चुनाव 2019: प्रदेश में बीजेपी-कांग्रेस के इन दिग्गजों पर रहेगी सभी की नजरें

अभी से करीब चालीस फीसदी की कटौती शुरू
जयपुर शहर में भी बीसलपुर बांध से सप्लाई किए जाने वाले पेयजल में करीब चालीस फीसदी की कटौती गर्मी आने से पहले की जा चुकी है. जयपुर शहर में जलदाय विभाग द्वारा 466 एमएलडी पानी रोजाना सप्लाई किया जाता रहा है. लेकिन बीसलपुर बांध में पानी के संकट के कारण गर्मी आने से पहले ही 300 एमएलडी पानी सप्लाई किया जा रहा है. जलदाय विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों का कहना है की गर्मियों में पानी का कोई संकट नहीं आने दिया जाएगा और बीसलपुर से ही पेयजल की आपूर्ति नियमित रखी जाएगी.
Loading...

लोकसभा चुनाव-2019 : बीजेपी के लिए इस बार आसान नहीं है राह, बहाना पड़ेगा पसीना

लोकसभा चुनाव-2019: पाली में केन्द्रीय मंत्री चौधरी के खिलाफ पदाधिकारियों ने खोला मोर्चा

केन्द्रीय मंत्री शेखावत का कांग्रेस पर हमला, किसानों को गुमराह करने का लगाया आरोप

लोकसभा चुनाव 2019: राजस्थान में दो चरणों में होंगे चुनाव, 29 अप्रेल और 6 मई को होगा मतदान

लोकसभा चुनाव 2019 से पहले राजस्थान BJP में इन दिग्गज नेताओं की होगी घर वापसी!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...