लाइव टीवी

समस्याओं के अंतिम पड़ाव 'सचिवालय' को आधुनिक बनाने की तैयारी, बजट में की थी घोषणा

Prem Meena | News18 Rajasthan
Updated: December 14, 2019, 2:36 PM IST
समस्याओं के अंतिम पड़ाव 'सचिवालय' को आधुनिक बनाने की तैयारी, बजट में की थी घोषणा
मुख्यमंत्री खुद बजट घोषणाओं की प्रगति का हर महीने फीडबैक मुख्य सचिव डीबी गुप्ता से ले रहे हैं.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) की बजट घोषणा (Budget announcement) को धरातल पर उतारने की कवायद के तहत शासन सचिवालय (Governance Secretariat) को आधुनिक बनाने की तैयारी तेजी से चल रही है.

  • Share this:
जयपुर. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) की बजट घोषणा (Budget announcement) को धरातल पर उतारने की कवायद के तहत शासन सचिवालय (Governance Secretariat) को आधुनिक बनाने की तैयारी तेजी से चल रही है. कार्मिक विभाग (personnel department) ने इस पर तेजी से काम करना शुरू कर दिया है. मुख्यमंत्री ने बजट घोषणा में सचिवालय को आधुनिक (Modern) बनाने के लिए 5 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया था.

आगुंतकों के प्रवेश के लिए आईडी ली जाएगी
इसके तहत सचिवालय के स्वागत कक्ष को आधुनिक बनाया जाएगा. सचिवालय के स्वागत कक्ष में बैठने के लिए चेयर लगाई जाएंगी. वहीं हॉल में एसी और कूलर की व्यवस्था की जाएगी. यहां आगुंतकों के प्रवेश के लिए आईडी ली जाएगी. पर्ची के साथ ही फोटो स्कैन होगी. आगुंतकों की ओर से साथ लाए जाने वाले बैग भी स्कैन किए जाएंगे. सुरक्षाकर्मी बढ़ाए जाएंगे. वहीं सचिवालय के पश्चिमी द्वार जहां से सीएम गहलोत सहित मंत्रियों की एंट्री रहती है, उसको भी चौड़ा किया जाएगा.

किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े

समस्याओं के अंतिम पड़ाव यानी शासन सचिवालय को आधुनिक बनाने के पीछे गहलोत सरकार का मुख्य मकसद यह है कि दूरदराज के ग्रामीण क्षेत्रों से आए लोगों को किसी भी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े. शासन सचिवालय वह जगह है जहां नीति नियम कायदे बनकर पूरे प्रदेश पर लागू कराए जाते हैं.

सीएम हर महीने सीएस से लेते हैं फीडबैक
इसी के मद्देनजर मुख्य सचिव डीबी गुप्ता ने कार्मिक विभाग की सचिव रोली सिंह को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि सचिवालय को आधुनिक बनाने की दिशा में तेजी से काम किया जाए. मुख्यमंत्री खुद बजट घोषणाओं की प्रगति का हर महीने फीडबैक मुख्य सचिव डीबी गुप्ता से ले रहे हैं.नागरिकता संशोधन कानून: राजस्थान में लागू करने पर अनिश्चितता के बादल

कश्मीर मुद्दे पर एकजुट हुए भारतीय, कंजर्वेटिव पार्टी को दिलाई बड़ी जीत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए जयपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 14, 2019, 2:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर