प्रधानमंत्री मुद्रा प्रोत्साहन अभियान से 9 करोड़ लोगों को दिए 4 लाख करोड़ रुपए

भाषा
Updated: October 13, 2017, 5:59 PM IST
प्रधानमंत्री मुद्रा प्रोत्साहन अभियान से 9 करोड़ लोगों को दिए 4 लाख करोड़ रुपए
नौ करोड़ लोगों को चार लाख करोड़ रूपए का ऋण दिया जा चुका है.
भाषा
Updated: October 13, 2017, 5:59 PM IST
केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने प्रधानमंत्री मुद्रा प्रोत्साहन अभियान को विश्व का सबसे बड़ा अभियान बताया है.

केंद्रीय मंत्री राजस्थान की राजधानी जयपुर में शुक्रवार को कहा कि अब तक इससे नौ करोड़ लोगों को चार लाख करोड़ रूपए का ऋण दिया जा चुका है. उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के इस बेहतरीन अभियान देश के नागरिकों को आर्थिक रूप से मजबूती प्रदान कर रहा है. साथ ही आर्थिक प्रगति को जोड़ रहा है.

उन्होंने कहा कि लाभान्वित नौ करोड़ लोगों में से अस्सी प्रतिशत महिलाएं और 55 प्रतिशत अनुसूचित जाति, जनजाति और पिछडा वर्ग के लोग है. बैंकों को स्पष्ट निर्देश दिये गये है कि अनुसूचित जाति, जनजाति और महिला आवेदक को यह रिण जरूर दिया जाये. यदि किसी आवेदक को रिण नहीं दिया गया है, तो उसके कारण सरकार को बताना होगा.



राठौड़ ने कहा कि चालू वित्तीय वर्ष के दौरान प्रधानमंत्री मुद्रा अभियान के तहत दो लाख चार हजार करोड़ रूपये का रिण देने का लक्ष्य रखा गया है तथा किसी भी बैंक को लक्ष्य नहीं दिया गया है जिससे लक्ष्य पूरा होने के बाद कोई बैंक आवेदक को रिण देने से इंकार नहीं कर सके.

उन्होंने कहा कि इस अभियान के तहत पचास हजार रूपये से कम का रिण 98 प्रतिशत शिशु रिण दिये गये है. जनधन योजना के तहत विगत दो साल में उन्नतीस करोड़ खाते खोले गये है. इस अभियान से लोग आर्थिक रूप से मजबूत होंगे और अधिक लोगों को रिण दिया गया.
First published: October 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर