Assembly Banner 2021

Rajasthan News: प्रियंका गांधी ने क्‍यों थपथपाई सीएम गहलोत की पीठ? जानिये क्या है पूरा मामला

प्रियंका गांधी की मथुरा सभा में पीड़िता के परिजनों ने हंगामा किया था. (File photo)

प्रियंका गांधी की मथुरा सभा में पीड़िता के परिजनों ने हंगामा किया था. (File photo)

Bharatpur Gang Rape Case: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने इस मामले में सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को फोन कर जल्द कार्रवाई करने के लिये कहा था. बाद में गहलोत की ओर करवाई गई शीघ्र कार्रवाई पर प्रियंका ने ट्वीट कर गहलोत को धन्यवाद दिया है.

  • Share this:
जयपुर. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने भरतपुर गैंगरेप मामले (Bharatpur gangrape case) में शीघ्रता से कार्रवाई करने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को धन्यवाद दिया है. प्रियंका गांधी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि कोई भी राजनीतिक व्यवस्था महिलाओं के प्रति संवेदनशील हुए बिना प्रगति नहीं कर सकती. यह मामला तब सुर्खियों में आया था जब गैंगरेप पीड़िता ने मथुरा में प्रियंका गांधी से मुलाकात कर उन्हें अपना दुखड़ा सुनाया था. इसके बाद प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से फोन पर बात की थी. प्रियंका गांधी ने गहलोत से फोन पर बात करके पुलिस से मामले में त्वरित कार्रवाई करवाने के निर्देश दिए थे.

गैंगरेप की यह घटना 26 अप्रैल 2020 की है. इस प्रकरण में 3 लोगों पर 15 साल की पीड़िता से गैंगरेप का आरोप है. पीड़ित पक्ष का आरोप है कि पुलिस मामले में कार्रवाई नहीं कर रही थी. प्रियंका गांधी की मथुरा सभा में पीड़िता के परिजनों ने हंगामा किया. उसके बाद प्रियंका गांधी ने बीच में ही अपना संबोधन समाप्त किया और पीड़िता को गाड़ी में बिठा कर ले गई थी. पीड़िता से अकेले में बातचीत के बाद प्रियंका गांधी ने सीधे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को फोन किया था.

गहलोत ने एसपी और आईजी से रिपोर्ट मांगी थी
प्रियंका से फोन पर बात होने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एसपी और आईजी से बातचीत कर तुरंत रिपोर्ट मांगी और कार्रवाई करने को कहा था. सीएम के निर्देश के बाद पुलिस की ओर से पीड़िता और उसके परिजनों को सुरक्षा भी उपलब्ध करवा दी गई थी. अब इस त्वरित कार्रवाई के लिए प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री की पीठ थपथपाई है. जानकारी के मुताबिक पीड़िता की ओर से लिखवाई गई एफआईआर और उसके द्वारा दिए गए बयानों में अंतर है. पुलिस मामले की जांच में जुटी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज