अपना शहर चुनें

States

पुलवामा अटैक: शहीदों को जब मासूमों ने दी मुखाग्नि तो हजारों आंखें हुईं नम

जैतपुरा में शहीद भागीरथ सिंह को मुखाग्नि देता उनका तीन वर्षीय पुत्र विनय। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
जैतपुरा में शहीद भागीरथ सिंह को मुखाग्नि देता उनका तीन वर्षीय पुत्र विनय। फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए मरुधरा के पांचों शहीदों का शनिवार को राजकीय सम्मान के साथ उनके पैतृक गांवों में अंतिम संस्कार कर दिया गया. जब शहीदों के मासूम बच्चों ने मुखाग्नि दी तो वहां मौजूद हजारों लोगों की आंखें नम हो गईं.

  • Share this:
पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए मरुधरा के पांचों शहीदों का शनिवार को राजकीय सम्मान के साथ उनके पैतृक गांवों में अंतिम संस्कार कर दिया गया. इस दौरान जब शहीदों के मासूम बच्चों ने मुखाग्नि दी तो वहां मौजूद हजारों लोगों की आंखें नम हो गईं. शहीदों को पंचतत्व में विलीन किए जाने से पहले उन्हें 'गार्ड ऑफ ऑनर' दिया गया. इस मौके पर प्रदेश के कोने-कोने से आए हजारों लोग मौजूद रहे.

पुलवामा हमले में राजस्थान के पांच जवान हुए शहीद, यहां देखें- पूरी लिस्ट

पुलवामा अटैक: राजस्थान में शहीदों के परिवारों के पैकेज में बढ़ोतरी, अब 50-50 लाख मिलेंगे



जयपुर के शाहपुरा के गोविंदपुरा-बासड़ी निवासी शहीद रोहिताश लांबा को उनके ढाई माह के मासूम बेटे ने मुखाग्नि दी. लांबा के पिता बाबूलाल ने पोते को गोद में लेकर नम आंखों और रुंधे गले से अपने बेटे को मुखाग्नि दिलवाई. यह दृश्य देखकर लोगों आंखें भर आई. यह पल हर किसी को भावुक कर गया. इससे पहले देर रात शहीद की पार्थिव देह सड़क मार्ग से शाहपुरा लाई गई. वहां स्थानीय थाने में पार्थिव देह को रखवाया गया. सुबह 8 बजे अमरसर थाने से शहीद की अंतिम यात्रा निकली.
मरुधरा के सपूत: दो दिन पहले जल्दी लौटकर आने का वादा किया था भागीरथ ने

पुलवामा CRPF अटैक: 'दोस्तों के शरीर के क्षत-विक्षत अंगों को उठाना बेहद दर्दनाक था'- राजकुमार

17 किलोमीटर का सफर
अंतिम यात्रा आधा दर्जन गांवों से होते हुए करीब 17 किलोमीटर का सफर तय करके पांच घंटे बाद दोपहर 1:30 बजे शहीद के पैतृक गांव पहुंची. अंत्येष्टि में केंद्रीय राज्यमंत्री राज्यवर्द्धन सिंह राठौड़, सैनिक कल्याण मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास, कृषि मंत्री लालचंद कटारिया, यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल और स्थानीय विधायक आलोक बेनीवाल सहित सीआरपीएफ, पुलिस व प्रशासन के आलाधिकारी मौजूद रहे.

प्रतापगढ़ में प्रधानाचार्य ने की शहीदों पर अभद्र टिप्पणी, विभाग ने किया निलंबित, मामला दर्ज

पुलवामा CRPF अटैक: श्रद्धाजंलि देने का सिलसिला जारी, आर्थिक सहयोग की भी घोषणा

शहीद भागीरथ सिंह को तीन वर्षीय पुत्र विनय ने मुखाग्नि दी
वहीं धौलपुर में शहीद भागीरथ सिंह को उनके तीन वर्षीय पुत्र विनय ने मुखाग्नि दी. मासूम विनय ने मुखाग्नि देकर पिता को अंतिम प्रणाम किया तो उस दौरान वहां मौजूद कई लोगों की तो रुलाई फूट पड़ी. शहीद के पैतृक गांव जैतपुरा में किए गए उनके अंतिम संस्कार में हजारों की संख्या में लोग उमड़े. लोगों ने शहीद की शहादत को सलाम कर अपनी श्रद्धाजंलि अर्पित की. इस दौरान लोगों ने शहीद और भारत माता के जयकारों से जैतपुरा को गूंजा दिया. शहीद के एक बेटी भी है. वह भी एक वर्ष की है.

राजस्थान में गुर्जर आंदोलन खत्म, ड्राफ्ट मिलने के बाद कर्नल बैंसला ने की घोषणा

गुर्जर आंदोलन: मान गए कर्नल बैंसला, खत्म हुआ आंदोलन, प्रदेश को मिली राहत 

(रिपोर्ट : सचिन कुमार एवं राकेश सिंघल)

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज