Home /News /rajasthan /

railway took these big steps for safe rail travel adopted modern signaling system increased passenger facilities and safety rjsr

ट्रेनों का तेज दौड़ना हुआ आसान, सुरक्षित रेल सफर के लिये रेलवे ने उठाये ये बड़े कदम

उत्तर पश्चिम रेलवे ने अपने 532 समपार फाटकों को इंटरलॉक कर दिया है.

उत्तर पश्चिम रेलवे ने अपने 532 समपार फाटकों को इंटरलॉक कर दिया है.

रेलवे ने बढ़ाई यात्रियों की सुरक्षा और सुविधायें: रेलवे (Indian Railway) अपने यात्रियों के सफर को लगातार आरामदायक और पहले के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित बनाने में जुटा हुआ है. रेल संचालन को आधुनिक सिग्नल प्रणाली (Modern signal system) से जोड़ा जा रहा है. वहीं ज्यादा से ज्यादा समपार फाटकों को इंटरलॉक्ड किया जा रहा है. उत्तर पश्चिम रेलवे ने अपने 419 स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई (Free wi-fi) की सुविधा प्रारंभ कर दी है.

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. उत्तर पश्चिम रेलवे यात्रियों के सफर को आसान बनाने के साथ साथ सुरक्षित (Safe) बनाने पर भी लगातार काम कर रहा है. NWR के दावे के मुताबिक इसके लिये ऐसे तमाम आधुनिक संसाधनों का इस्तेमाल किया जा रहा है जो यात्रियों को सफर के दौरान ज्यादा से ज्यादा सुरक्षा दे सके. इसी कड़ी में रेल संचालन को आधुनिक सिग्नल प्रणाली (Modern signal system) से जोड़ा जा रहा है. इसकी वजह से ट्रैक पर ट्रेनों का दौड़ना पहले से ज्यादा सुरक्षित हुआ है. उत्तर पश्चिम रेलवे की मानें तो पिछले एक साल में आधुनिक तकनीक को ज्यादा से ज्यादा अपनाया गया है. यात्रा को सुरक्षित बनाने के लिए आधुनिक सिग्नल प्रणाली का सहारा लिया गया है.

पिछले एक साल में उत्तर पश्चिम रेलवे के 30 रेलवे स्टेशनों पर इलेक्ट्रोनिक इंटरलॉक्ड लगाए गए हैं. ऐसा करना इसलिए भी जरूरी था कि पिछले दो बरसों में ट्रेनों की औसतन स्पीड को बढ़ाया गया है. पटरी पर तेज दौड़ती ट्रेनों को दुर्घटना से रोकने के लिए इलेक्ट्रोनिक इंटरलॉक्ड और सिग्नल प्रणाली का दुरूस्त होना बेहद जरूरी था.

4 इंटरमिडियट ब्लॉक सिस्टम स्थापित किये
उत्तर पश्चिम रेलवे के कैप्टन शशि किरण के अनुसार सिग्नल प्रणाली में आधुनिकीकरण के तहत लाइन क्षमता बढ़ाने के लिए इस वित्तीय वर्ष में 4 इंटरमिडियट ब्लॉक सिस्टम (IBS) भी स्थापित किये गये है. इस प्रणाली के तहत एक ट्रेन के दूसरे स्टेशन पर पहुंचने से पहले IBS को पार करने के बाद उस खण्ड में दूसरी रेल चलाई जा सकती है.

532 समपार फाटकों को इंटरलॉक कर दिया गया है
रेलवे फाटकों पर सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए इस साल में 23 फाटकों को इंटरलॉक्ड किया गया है. उत्तर पश्चिम रेलवे पर अब तक कुल 532 समपार फाटकों को इंटरलॉक कर दिया गया है. इस प्रणाली में गेट के बन्द होने पर ही सिग्नल ‘हरा’ होता है. गेट बन्द न होने पर उससे जुड़ा सिग्नल ‘लाल’ ही रहता है. इससे ट्रेन सुरक्षित दूरी पर खड़ी हो जाती है.

419 स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई की सुविधा प्रारंभ
इसके अलावा यात्रा से जुड़ी दूसरे सुरक्षा पहलुओं की बात करें तो रेलवे स्टेशनों पर कुल 253 रिले रूमों में ऑटोमेटिक फायर अलार्म सिस्टम स्थापित कर दिए गए हैं. 9 स्टेशनों सहित कुल 419 स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई की सुविधा प्रारंभ कर दी गई है. इसमें से जयपुर मण्डल में 89, जोधपुर मण्डल में 120, अजमेर मण्डल में 86 और बीकानेर मण्डल में 124 स्टेशनों पर फ्री वाई-फाई सुविधा मिल रही है.

Tags: Indian Railway news, Jaipur news, Rajasthan latest news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर