राजस्थान विधानसभा उपचुनाव: सुजानगढ़ में बैनर से पायलट का फोटो नदारद, बाद में चिपकाया

पिछले दिनों राहुल गांधी के राजस्थान दौरे के दौरान भी इस तरह के वाकये सामने आये थे.

पिछले दिनों राहुल गांधी के राजस्थान दौरे के दौरान भी इस तरह के वाकये सामने आये थे.

Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot: राजस्थान कांग्रेस में गहलोत-पायलट खेमों चल रही खींचतान को आये दिन किसी न किसी बहाने हवा मिलती रहती है. आज सुजानगढ़ (Sujangarh) में आयोजित नामांकन रैली में फिर ऐसा ही मौका आ गया जिससे सियासत (Politics) एक बार फिर गरमा गई.

  • Share this:
जयपुर. विधानसभा उपचुनाव (Rajasthan Assembly by-election) में एकजुट होकर बीजेपी (BJP) का सामना करने मैदान में उतरी राजस्थान कांग्रेस (Congress) में अशोक गहलोत और सचिन पायलट (Ashok Gehlot Vs Sachin Pilot) खेमे में चल रही अंदरूनी टसर रह-रहकर सामने आ रही है. ऐसा ही वाकया आज चुनाव प्रचार की रणभेरी बजाने के दौरान देखने को मिला. चूरू के सुजानगढ़ में कांग्रेस प्रत्याशी की नामांकन चुनावी सभा में मंच पर लगे बैनर में पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट का फोटो नदारद था.

मंच पर लगाये गये इस बैनर में सीएम अशोक गहलोत, पार्टी के प्रदेश प्रभारी अजय माकन और पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा के ही फोटो थे. इसको लेकर शुरू हुई कानाफूसी के बाद पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट का फोटो बैनर पर चिपकाया गया. लेकिन इस वाकये ने गहलोत और पायलट गुट के बीच खींच रही लाइन को एक बार फिर से उकेर दिया.

नामांकन करने का आज अंतिम दिन है

दरअसल विधानसभा उपुचनाव के लिये नामांकन करने का आज अंतिम दिन है. आज कांग्रेस और बीजेपी के प्रत्याशी अपना-अपना नामांकन दाखिल कर रहे हैं. विपक्षी पार्टी बीजेपी से मुकाबले की शुरुआत करते हुये कांग्रेस ने सुजानगढ़ समेत सहाड़ा और राजसमंद में चुनावी सभाओं का आयोजन किया है. इन तीनों सीटों पर उपचुनाव होने हैं. इन सभाओं में सीएम अशोक गहलोत, प्रदेश प्रभारी अजय माकन, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा और पूर्व पीसीसी चीफ सचिन पायलट पहुंच रहे हैं.
यह है कांग्रेस का तय कार्यक्रम

कांग्रेस के तय कार्यक्रम के अनुसार पहली सभा सुजानगढ़ में रखी गई है. उसके बाद 1.15 पर भीलवाड़ा के सहाड़ा में चुनावी सभा रखी गई है. वहीं दोपहर बाद 3 बजे राजसमंद चुनावी सभा होनी है. इसके बाद सीएम अशोक गहलोत का जयपुर लौटने का कार्यक्रम है.

पहले भी इस तरह की घटनायें सामने आती रही है



गत वर्ष प्रदेश में सीएम अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट गुट के बीच हुये सियासी खींचतान के बाद से पार्टी आलाकमान दोनों में सामंजस्य बनाने का भरपूर प्रयास कर रहा है. लेकिन हर बार किसी न किसी कारण से बात बनने की बजाय बिगड़ जाती है. पिछले दिनों राहुल गांधी के राजस्थान दौरे के दौरान भी इस तरह के वाकये सामने आये थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज