• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • राजस्थान विधानसभा उपचुनाव: कांग्रेस ने किया प्रचार अभियान का आगाज, सहानुभूति के वोट बटोरने की कवायद

राजस्थान विधानसभा उपचुनाव: कांग्रेस ने किया प्रचार अभियान का आगाज, सहानुभूति के वोट बटोरने की कवायद

कांग्रेस ने जहां सहानुभूति के वोट बटोरने की कवायद की वहीं सचिन पायलट को भी चुनावी सभाओं में साथ रखकर पार्टी में एकजुटता का संदेश देने की कोशिश की है.

कांग्रेस ने जहां सहानुभूति के वोट बटोरने की कवायद की वहीं सचिन पायलट को भी चुनावी सभाओं में साथ रखकर पार्टी में एकजुटता का संदेश देने की कोशिश की है.

Rajasthan Assembly by-election: उपचुनाव के लिये नामांकन दाखिल करने के आखिरी दिन मंगलवार से कांग्रेस ने अपने चुनाव प्रचार अभियान का शुभारंभ कर दिया है. कांग्रेस ने पहले ही दिन अपने प्रचार अभियान को गति देने की कोशिश की है.

  • Share this:
जयपुर. उपचुनाव (Rajasthan Assembly by-election) के रण को फतह करने के लिए कांग्रेस (Congress) ने आज अपने चुनावी अभियान का शंखनाद कर दिया है. प्रदेश की सुजानगढ़, सहाड़ा और राजसमंद सीटों पर होने जा रहे इस उपचुनाव में कांग्रेस ने पहले ही दिन अपनी ताकत झोंक दी है. आज तीनों ही सीटों पर कांग्रेस की बड़ी चुनावी सभाओं (Election meetings) का आयोजन हुआ. इन चुनावी सभाओं को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के साथ ही प्रदेश प्रभारी अजय माकन, पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट समेत दूसरे नेताओं ने संबोधित किया.

मंगलवार को पार्टी के तीनों प्रत्याशियों ने अपने नामांकन-पत्र भी दाखिल किए. सुजानगढ़ और सहाड़ा में कांग्रेस सहानुभूति की लहर पर सवार है. सुजानगढ़ में जहां दिवंगत मास्टर भंवरलाल मेघवाल के बेटे मनोज मेघवाल को प्रत्याशी बनाया गया है. वहीं सहाड़ा में दिवंगत विधायक कैलाश त्रिवेदी की पत्नी गायत्री त्रिवेदी को टिकट दिया गया है. जनसभाओं को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री समेत तमाम नेताओं ने जनता को विश्वास दिलाया कि उनके क्षेत्र में विकास कार्यों में कोई कमी नहीं आने दी जाएगी. आचार संहिता की वजह से वे घोषणा नहीं कर सकते हैं.

क्षेत्र का विशेष ध्यान रखा जाएगा
इस दौरान सीएम अशोक गहलोत ने पिछले सवा 2 साल में किए गए सरकार के कार्य गिनाते हुए कहा कि कांग्रेस हमेशा विकास के नाम पर वोट मांगती है. सुजानगढ़ में सीएम ने कहा कि मास्टर भंवरलाल मेघवाल का विकास का जो सपना था उसे हम सब मिलकर पूरा करेंगे. सीएम ने कहा कि आचार संहिता लगी होने के चलते अभी कोई घोषणा नहीं की जा सकती है. लेकिन आप चुनाव में साथ दो और मैं यह वादा करता हूं कि क्षेत्र का विशेष ध्यान रखा जाएगा.



एकजुटता का संदेश देने की कोशिश
सीएम गहलोत ने कहा कि प्रदेश में हमारी सरकार है. यदि आप कांग्रेस को जिताते हो तो कर्मचारियों में यह भावना पैदा होती है कि जनता सरकार के साथ है और वे ज्यादा मनोयोग से आप लोगों की सेवा करते हैं. पार्टी के सभी नेताओं ने एक सुर में कहा कि जीतने के बाद कांग्रेस क्षेत्र के विकास में कोई कमी नहीं रखेगी. पार्टी नेताओं ने बार-बार दिवंगत मास्टर भंवरलाल मेघवाल का नाम लेकर जहां सहानुभूति के वोट बटोरने की कवायद की वहीं सचिन पायलट को भी चुनावी सभाओं में साथ रखकर पार्टी में एकजुटता का संदेश देने की कोशिश की.

सरकार बनेगी या बिगड़ेगी नहीं लेकिन...
पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने कहा कि केंद्र सरकार को सबक सिखाने के लिए मनोज मेघवाल की जीत जरूरी है. उन्होंने कहा कि इस चुनाव की हार जीत से सरकार बनेगी या बिगड़ेगी नहीं लेकिन सत्ता के मद में चूर केन्द्र सरकार को एक सख्त संदेश जरूर जाएगा. इस दौरान कांग्रेस नेताओं ने बीजेपी और केन्द्र सरकार भी जमकर निशाने साधे.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज